कैथल मैं देर शाम पहुंचे इनेलो नेता अभय चौटाला बदले हुए तेवरों में नजर आए जिस किसी पार्टी ने किसान का वोट लिया है उसने अगर किसानों के हक में फैसला नहीं लिया तो दोबारा विधायक बनना तो दूर पंच भी नहीं बन पाएंगे
February 1st, 2021 | Post by :- | 77 Views

कैथल(लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी)कैथल मैं देर शाम पहुंचे इनेलो नेता अभय चौटाला बदले हुए तेवरों में नजर आए क्योंकि कैथल में कुछ लोग इनैलो में जॉइनिंग करने के लिए आए हुए थे उन्होंने अभय चौटाला का फूल माला पहनाकर स्वागत किया पत्रकारों से बात करते हुए बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा क बजट तो कैसे गरीब आदमी को कमजोर किया जाए जैसे तीन कृषि के भी लाए उसी तरह का बजट आज पेश किया गया आज बजट में किसान के खेत में डालने वाली खाद में जो सब्सिडी थी उसको  खत्म कर दिया गया है उसके साथ-साथ पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए गए हैं इस बजट में कहा तो यह गया कि किसान को मजबूत करने के लिए कदम उठाया सबसे बड़ा कदम किसान के खिलाफ सरकार ने उठाया तीन कृषि कानून और माध्यम वर्ग के लोग पर यह बजट बहुत भारी पड़ेगा इस वजह से बड़ा नुकसान मध्यम वर्ग के लोगों पर पड़ेगा मे व्यापारी वर्ग  तो पहले ही मरा हुआ है मध्यम वर्ग को मारने के लिए बजट में या चीजें लेकर आया

यह सरकार केवल पूंजी पतियों की सरकार है केवल पूंजीपति में भी चंद घराने है इस देश में 5 से 10 घराने ऐसे हैं जिनके कहने पर यह सरकार काम करती  है
पत्रकारों ने पूछा कि आप सबसे पहले विधायक है जिन्होंने इस्तीफा दिया है क्या आपको लगता है कि किसानों के लिए और विधायक भी इस्तीफा देंगे इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए अभय चौटाला ने कहा कि
जिस किसी पार्टी  ने किसान का वोट लिया है उसने अगर किसानों के हक में फैसला नहीं लिया तो दोबारा विधायक बनना तो दूर पंच भी नहीं बन पाएंगे किसी गांव के उनकी तीन पीढ़ीया क्योकि  किसान के याददाश्त ठीक है बिना नाम लिए जेजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहां की इस बात को मैं बोलता नहीं जो गद्दार लोग किसानों मंच पर गए और कहा कि वह किसानों के लिए काम करेंगे और उन्होंने किसानों का वोट लिया आने वाले समय में  किसान उन लोगों को सबक सिखाएंगे
इंटरनेट की सेवा से पूरा हरियाणा प्रभावित है सबसे ज्यादा घर बैठे पढ़ाई करने वाले बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है आज तो बिजली का बिल इंटरनेट के माध्यम से बाहर आ जाता है आज ऑनलाइन सारे काम होते हैं यह तो नेट बंद किया गया इसके पीछे भी सरकार  27 जनवरी जो कुछ गाजीपुर बॉर्डर पर हुआ उससे सरकार डरी हुई है क्योंकि रातों-रात  हरियाणा का  किसान नौजवान  दिल्ली के  और यूपी के बॉर्डर पर ना पहुंच जाए इसलिए नेट बंद करवाए हैं सरकार को जल्द नेट को शुरू करना चाहिए
पत्रकारों पर दर्ज केस पर  अबे चौटाला ने उल्टा पत्रकारों पर ही बढ़ते और कहा कि तुम लोगों ने मोदी के नाम को जनता के बीच इतना बड़ा किया और जो मोदी ने जहर उगला उसको तुमने मीडिया के माध्यम से जनता तक पहुंचाया इसलिए अब तुम लोगों को इससे सबक मिलेगा . तुम्हें पता चलेगा कि पत्रकारों की क्या जिम्मेदारी है
दिल्ली बॉर्डर पर किसानों पर हो रहे पथराव पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए अभय चौटाला ने कहा कि
किसान कभी झुकता नहीं है क्या किसान कभी किसी के आगे हाथ नहीं   फैलाता सरकार को किसान आंदोलन के आगे झुकना पड़ेगा और सिर्फ उनकी मांगों को मानना पड़ेगा
 प्रधानमंत्री के साथ किसानों की प्रेस वार्ता पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि हो सकता है की प्रधानमंत्री किसान आंदोलन को खत्म करवाने की दिशा में काम करें और शायद वह चाहते हो कि वो ही  मोहर लगाकर तीन कृषि कानून को रद्द करवाएं
पत्रकारों ने पूछा क्या कि आप ऐलनाबाद से चुनाव लड़ेंगे इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि इस बात का निर्णय उनके कार्यकर्ता और वहां की जनता करेंगे
पत्रकार ने पूछा कि आपको लगता है कि आप के विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद इनैलो में ताकत में आएगी उस पर उल्टा पत्रकारों से ही पूछा यह बात तुम बताओ कि ताकत मिलेगी या नहीं मैंने इस्तीफा किसानों के लिए दिया है पार्टी की मजबूती के लिए नहीं

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।