पंजाब निवासी कांग्रेस की गलत नीतियों से परेशान :सरूप सिंह संत ।
August 20th, 2019 | Post by :- | 148 Views

 

जंडियाला गुरु (कुलजीत सिंह) पूर्व कैबिनेट मंत्री तथा माजे के जर्नल बिक्रम सिंह मजीठिया के दिशा निर्देशों पर, हल्का जंडियाला गुरु के इंचार्ज डॉ दलबीर सिंह वेरका द्वारा शहर जंडियाला गुरु अकाली दल को मजबूत करने के लिए मीटिंगो का सिलसिला शुरू किया गया है । इसी सिलसिले के तहत आज काउंसलर जसपाल सिंह बब्बू के घर में अकाली-भाजपा की एक विशेष मीटिंग हुई। जिसकी अध्यक्षता शिरोमणि अकाली दल (ब) जंडियाला गुरु के शहरी प्रधान स्वरूप सिंह संत ने की । इस मीटिंग में अकाली वर्करों को आ रही मुश्किलों के विषय में विचार विमर्श किया गया। मीटिंग के दौरान स्वरूप सिंह संत शहरी प्रधान ने कहा कि पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल तथा माजे के जनरल बिक्रम सिंह मजीठिया की देखरेख में चल रही अकाली दल की भर्ती, हल्का जंडियाला गुरु के इंचार्ज डॉ दलबीर सिंह वेरका की अगवाई में शहर जंडियाला गुरु में ज्यादा से ज्यादा होगी । उन्होंने कहा कि अकाली दल की भर्ती में लोगों का भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। क्योंकि कांग्रेस सरकार का बहुत ही बुरा हाल हो चुका है। पंजाब निवासी कैप्टन सरकार की गलत नीतियों से तंग आ चुके हैं तथा अकाली दल सरकार को याद कर रहे हैं। इस मौके बबलू पूर्व सरपंच ने कहा कि बादल सरकार द्वारा दी गई सब सहुलते कांग्रेस सरकार ने बंद कर दी हैं। इसलिए पूरे पंजाब में हाहाकार मची हुई है । आखिर में स्वरूप सिंह संत शहरी प्रधान ने कहा कि अगर किसी अकाली वर्कर या किसी व्यक्ति को किसी तरह की परेशानी है तो, वह मेरे दफ्तर वैरोवाल रोड में आकर मुझे मिल सकता है । तेजेंद्र सिंह चंदी भाजपा नेता ने बताया कि जल्द ही अकाली-भाजपा की एक और बड़ी मीटिंग होगी। जिसमें सभी नेता शामिल होंगे। इस मौके पर तेजिंदर सिंह चंदी सीनियर भाजपा आगू, जसपाल सिंह बब्बू काउंसलर, सविंदर सिंह चंदी, मनदीप सिंह डौट भाजपा काउंसलर , नरेंद्र सिंह ओलख, जसवंत सिंह ग्रोवर, अमर सिंह सिपाही, निर्मल सिंह निम्मा प्रधान एस.सी. विंग, इकबाल सिंह विर्क, सलविंदर सिंह तथा अन्य उपस्थित थे।
कैप्शन :– पत्रकारों को जानकारी देते हुए स्वरूप सिंह संत शहरी प्रधान, सविंदर सिंह चंदी, मनदीप डॉट, अमर सिंह सिपाही तथा अन्य।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।