चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा मनाया गया पहला मरीज सुरक्षा दिवस।
September 17th, 2019 | Post by :- | 132 Views

बीकानेर,(मनीष)। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा पहला मरीज सुरक्षा दिवस मनाया गया। जिले के विभिन्न अस्पतालों में चिकित्सकों व पेरामेडिकल स्टाफ द्वारा पेशेंट सुरक्षा और सावधानी की शपथ ली गई। स्वास्थ्य भवन सभागार में कायाकल्प कार्यक्रम सन्दर्भ में आयोजित संभाग स्तरीय प्रशिक्षण के दौरान पेशेंट सेफ्टी पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में संयुक्त निदेशक बीकानेर जोन डॉ देवेन्द्र चैधरी ने संवेदनशीलता से चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने की बात कही जिससे मरीज अस्पताल जनित किसी भी कारण से परेशान ना हो और स्वस्थ होकर निकले।

डिप्टी सीएमएचओ डॉ योगेन्द्र तनेजा ने “सही दवा सही मरीज सही मात्रा” विषय को महत्वपूर्ण बताया और दवा प्रिस्क्रिप्शन लिखने से पहले मरीज के मेडिकल इतिहास की जानकारी लेने पर जोर दिया। उन्होंने ड्यूटी शिफ्ट बदलने के साथ अपनाई जाने वाली सावधानियों व मरीज के परिजनों को उपचार की प्रक्रिया समझाने के बारे में बताया। उन्होंने कायाकल्प कार्यक्रम द्वारा मरीज सुरक्षा मानदंडों को लागू करने का आह्वान किया। दक्षता मेंटर डॉ आशुतोष उपाध्याय ने लेबर रूम में जच्चा-बच्चा सुरक्षा के लिए आवश्यक बिन्दुओं पर चर्चा की। नेशनल हेल्थ सिस्टम एंड रिसोर्स सेंटर दिल्ली (एनएचएसआरसी) की गाइडलाइन अनुसार पहली बार इस प्रकार का दिवस आयोजित कर अस्पतालों को मरीजों के लिए और सुरक्षित बनाने पर चर्चा हुई। समस्त चिकित्सकों व स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा रोगी सुरक्षा शपथ पत्र भर अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की गई। इस अवसर पर डीपीएम सुशील कुमार सहित बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ व चुरू जिले के बीसीएमओ, बीपीएम, सीएचसी व पीएचसी प्रभारी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।