हिमाचल प्रदेश में हर्षाेल्लास से मनाया गया गणतंत्र दिवस
January 26th, 2021 | Post by :- | 53 Views

26 जनवरी, विजय (शिमला ) -हिमाचल प्रदेश् में 72वां गणतंत्र दिवस आज उत्साह और जोश के साथ आयोजित किया गया। राज्यस्तरीय समारोह शिमला के रिज पर आयोजित किया गया जबकि ज़िला व उप-मण्डल स्तर पर भी समारोह आयोजित किए गए जिनमें ध्वजारोहण, भव्य मार्च पास्ट और रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम आकर्षण का केन्द्र बने।

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने ऐतिहासिक रिज पर राज्यस्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मार्च पास्ट की सलामी ली। उन्होंने 2 नागा रेजिमेंट के परेड कंमाडर केप्टन धीरज सैनी के नेतृत्व में प्रस्तुत शानदार मार्च पास्ट का निरीक्षण किया और सलामी ली।

राज्यपाल की धर्मपत्नी वसंथा बंडारू और मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

इंडो-तिब्बत बार्डर पुलिस, सशस्त्र सीमा बल के जवानों, पूर्व सैनिकों, राज्य पुलिस, गृह रक्षा बल, हिमाचल प्रदेश डाक सेवा और राष्ट्रीय सेवा योजना केडिट की टुकड़ियों ने मार्च पास्ट प्रस्तुत किया। इस अवसर पर मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान विभिन्न विभागों की विकासात्मक गतिविधियों की झलक दिखाती प्रदर्शनियां भी लगाई गईं।

सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने प्रदेश सरकार की विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों और कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित नाटक प्रस्तुत किया।

नागा रेजमेंट द्वारा प्रस्तुत ड्रिल और पुलिस विभाग के साइबर सेल ने नाटक प्रस्तुत किया जिन्हें जनता ने खूब सराहा।

हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी को प्रथम पुरस्कार दिया गया।

राज्यपाल ने इंदिरा गांधी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल, शिमला के चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. जनक राज को आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना मंे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भाजद्वाज, मुख्य सचेतक नरेन्द्र बरागटा, विधायक विनोद कुमार और बलवीर वर्मा, महापौर सत्या कौडल, मुख्य सचिव अनिल खाची, पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू, पुलिस व सेना के अधिकारी और प्रदेश सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।