नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मनाई 125वीं जयंती
January 23rd, 2021 | Post by :- | 323 Views

कालका (रोहित शर्मा) । राजकीय महाविद्यालय कालका की प्राचार्य प्रोमिला मलिक के तत्वाधान में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती व पराक्रम दिवस पूर्ण उत्साह के साथ मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता प्रो. सुनील कुमार रहे। इस दौरान प्रो. सुशील कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि सुभाष चंद्र बोस भारत के उन महान स्वतंत्रता सेनानियों में शामिल है, जिनसे आज के दौर का युवा वर्ग प्रेरणा लेता है। “तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा” , “जय हिंद” जैसे नारों से आजादी की लड़ाई को नई ऊर्जा देने वाले नेता जी की आज 125वीं जयंती है।

वहीं प्राचार्य प्रोमिला मलिक ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस भारत के स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी तथा सबसे बड़े नेता थे। उनके द्वारा दिया गया “जय हिंद” का नारा भारत का राष्ट्रीय नारा बन गया है। उन्होंने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जीवनी और कठोर त्याग आज के युवाओं के लिए बेहद ही प्रेरणादायक है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को पराक्रम दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

जानकारी देते हुए प्रो. डा. बिंदु ने बताया कि यह कार्यक्रम सेलिब्रेशन ऑफ डेज कमेटी के प्रभारी प्रो. नीना शर्मा और सदस्य प्रो. डा. बिंदु, प्रो. डा. शीतल ग्रोवर, प्रो. नमिता, प्रो. अलका, प्रो. सोनाली के मार्गदर्शन और दिशा निर्देशन में किया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।