हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के आजीवन सदस्य बनकर बाल कल्याण और बाल उत्थान के लिए अपना अमूल्य योगदान दें :सत्यदेव नारायण आर्य
January 20th, 2021 | Post by :- | 48 Views

चंडीगढ़ (मनोज शर्मा) हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद द्वारा आयोजित ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में महामहिम राज्यपाल एवं हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के प्रधान श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने शिरकत की। उन्होंने प्रदेश के बच्चों के नाम वीडियो संदेश के माध्यम से कहा कि परिषद् द्वारा आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में लगभग 5 लाख बच्चों द्वारा प्रतिभागिता ऐतिहासिक है। प्रतियोगिताओं में बेटों की तुलना में प्रदेश की बेटियों ने तीन गुना अधिक भाग लेकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को सार्थक किया है। राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने विजेता बच्चों और प्रतिभागी बच्चों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे भविष्य में भी इसी प्रकार अपनी प्रतिभाओं को निखारते रहें। उन्होंने हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद को सफल आयोजन की शुभकामनाएं दी। सामाजिक संस्थाओं और गणमान्य व्यक्तियों को आह्वान किया कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के आजीवन सदस्य बनकर बाल कल्याण और बाल उत्थान के लिए अपना अमूल्य योगदान दें। उन्होंने सभी बच्चों को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और सबके अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव के समापन समारोह में हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के मानद महासचिव श्री कृष्ण ढुल जी ने प्रदेश के महामहिम राज्यपाल एवं हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के प्रधान श्री सत्यदेव नारायण आर्य जी का समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश के बच्चे महामहिम राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य जी के संदेश के माध्यम से सकारात्मक ऊर्जा को अपने जीवन में आत्मसात कर आगे बढ़े। उन्होंने कहा कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के प्रधान के पद पर सुशोभित महामहिम राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य जी का मार्गदर्शन हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद को हमेशा मिलता रहा है और उनके मार्गदर्शन में हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद ने ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव के माध्यम से इतिहास रचने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि परिषद् भविष्य में भी बाल कल्याण की गतिविधियों को पूरी प्रतिबद्धता के साथ करती रहेगी। जिससे बाल कल्याण को बढ़ावा मिल सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।