नाचन, करसोग व सराज घाटियों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने पर 1892 करोड़ व्यय किए जाएंगेः महेन्द्र सिंह  ठाकुर
September 17th, 2019 | Post by :- | 116 Views

मंडी,(मोहन शर्मा):-17 सितम्बर: सिंचाई एवं जन स्वास्थय, बागवानी व सैनिक कल्याण मंत्री महेनद्र सिंह ठाकुर ने सात दिवसीय जिला स्तरीय नलवाड़ मेला ख्योड़ का मंगलवार को देवी-देवताओं की पूजा अर्चना के बाद विधिवत शुभारम्भ किया।
इस अवसर जनसभा को सम्बोधित करते हुए महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि सायर सैजा के उपलक्ष में मनाए जाने वाला यह मेला इस क्षेत्र का प्रसिद्व मेला है। इस तरह के मेले और त्यौहार हमारी पुरातन संस्कृति के प्रतीक हैं। इससे समाज में एकजुटता और सौहार्द बना रहता है।
उन्होंने कहा हिमाचल प्रदेश को देवभूमि के नाम से जाना जाता है। यहां के लोगों की देवी-देवताओं में अपार आस्था हैं। हम सब के लिए यह दिन और भी गौरवमय और प्रसन्नता का है क्योंकि हम एक ऐसे राष्ट्र नायक का जन्म दिवस मना रहे हैं जो देश के यशस्वी और सभ्य प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने इतिहास रचते हुए कभी न होने वाले कार्यों को कर करिश्मा दिखाया है। उन्होंने जम्मू कश्मीर से धारा 370 व 35-ए, तीन तलाक, स्वच्छ भारत मिशन, योग जैसे अनुकरणीय कार्य करते हुए पूरे विश्व में भारत की शान और महिमा को बढ़ाया है। उनका जन्म दिवस मनाते हुए हम सब हर्षित हैं।
सिंचाई मंत्री ने कहा कि हिमाचल में चहुंमुखी विकास के लिए डेढ़ साल में साढ़े 6 करोड़ से ज्यादा की योजनाएं मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के लिए केन्द्र सरकार से स्वीकृत करवाई गई हैं। जलजीवन मिशन के तहत साढ़े 3 लाख करोड़ की योजना 15 अगस्त को दिल्ली के लाल किले से प्रधानमंत्री द्वारा जारी की गई जिसके तहत हिमाचल के लिए भी 1 हजार करोड़ की विभिन्न योजनाएं स्वीकृत की गई हैं जिनके टैंडर करवाए जा रहे हैं।
उन्होंने कहा उद्यान विभाग के माध्यम से निचले क्षेत्रों में फलदार पौधे रोपित करने के लिए 1134 करोड़ और एशियन डिव्लपमैंट बैंक के माध्यम से 1688 करोड़ की योजना स्वीकृत की गई है। किसानों की आय 2022 तक दुगनी करने के लिए 4791 करोड़ की योजना क्रियान्वित की जा रही है।
महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि डेढ़ वर्ष के कार्यकाल में मुख्यमंत्री द्वारा पर्यटन की दृष्टि से नाचन, करसोग व सराज की घाटियों को विकसित करने के लिए 1892 करोड़ की राशि व्यय की जा रही है। इसी राशि के तहत कमरू घाटी में सबसे ऊंचा गोल्फ कोर्स मैदान भी निर्मित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि चैल चौक से देवीधड़ तक की घाटी जो कृषि के लिए उत्तम है उसके लिए भी विभागीय अधिकारियों को सिंचाई हेतु योजना बनाने के लिए सर्वें करने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि यहां की ग्राम पंचायत चैल चौक, शाला, भिस्ती, काण्डी और कमरूनाग के लिए सवा 2 करोड़ की पेयजल योजना तैयार की जाएगी। उन्होंने बताया कि उद्यान विभाग के तहत देवीधड़ क्षेत्र में भी विक्रय केन्द्र खोला जाएगा जिससे किसानों को अपने उत्पाद बेचने में सुविधा मिलेगी।
महेन्द्र सिंह ठाकुर ने स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुति के लिए 11000 और मेला प्रबन्धन समिति को मेला प्रबन्धन के लिए 21000 देने की घोषणा की । इससे पूर्व उन्होंने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह से मेला ग्राउंड तक शोभा यात्रा की भी अगुवाई की।
इस अवसर पर इस मेले की नींव रखने वाले क्षेत्र की तीन स्वर्गीय विभूतियों स्वर्गीय अलाहद शर्मा, स्वर्गीय टहलदास, स्वर्गीय पण्डित शिवलाल के परिवारों को भी सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर नाचन विधान सभा क्षेत्र के विधायक विनोद कुमार ने विधान सभा क्षेत्र में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि चैल चौक व गोहर बसस्टैण्ड, कलस्टर यूनिवर्सिटी की सुविधाएं जल्द ही लोगों को मिलेगी।
इस अवसर पर बासा ग्राम पंचायत प्रधान कमला शर्मा व उपप्रधान उमेश शर्मा ने मुख्यतिथि व गणमान्य व्यक्तियों को शॉल, टोपी व स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया। कमला शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मेले के दौरान महिला दंगल का भी आयोजन किया जाएगा। रात्रि के समय सांस्कृतिक संध्या के अलावा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
इस अवसर पर मण्डलाध्यक्ष रविन्द्र राणा, महामंत्री हुक्म ठाकुर, जिला उपाध्यक्ष मनोज शर्मा, पूर्व मण्डलाध्यक्ष वेद शर्मा, मुरारी लाल, जिला परिषद सदस्य हुक्मा देवी, किशोर कुमार, पंचायत प्रतिनिधियों,  कार्यकारी उपमण्डलाधिकारी अमित शर्मा, बीडीओ निशान्त शर्मा, मुख्य अभियन्ता आईपीएच ऐ0के0 महाजन, अधिक्षण अभियन्ता आईपीएच उपेन्द्र वैद्य,  सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।