प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधिवत रूप से दिल्ली से इस टीकाकरण कार्यक्रम का शुंभारभ किया है। स्वास्थ्य मंत्री ने आज नागरिक अस्पताल अंबाला छावनी में किया निरीक्षण।
January 16th, 2021 | Post by :- | 40 Views

अम्बाला : अशोक शर्मा
गृह शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि जिन लोगों को कोविशील्ड वैक्सीन लगाई जा रही है वे लोग वैक्सीन की डोज़ लगने के बाद 42 दिन तक स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हिदायतों की पालना निरंतर करंे, यह उनके स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक है। पहली वैक्सीन की डोज़ के बाद 28 दिन बाद दूसरी डोज़ संबधित लाभार्थी को लगनी है तथा उसके बाद 14 दिन तक उन्हें अपनी सावधानी बरतनी है। यह बात स्वास्थ्य मंत्री ने आज छावनी नागरिक अस्पताल अंबाला छावनी में आज से शुरू हुए टीकाकरण की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही
स्वास्थ्य मंत्री ने इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मैं हिदुस्तान के वैज्ञानिकों व डाक्टरों को सैल्यूट करता हूं जिन्होंंने इन दोनों वैक्सीनों को तैयार करने का काम किया है। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए बड़े-बड़े देश लगे हुए थे, चिकित्सा की दृष्टि से वह वैक्सीन बनाने के लिए निरंतर प्रयायरत थे। हमारे हिंदुस्तान के वैज्ञानिकों ने सबसे पहले इन दोनों वैक्सीनों को तैयार करके एक मिसाल कायम की है, जिसके लिए हर भारतवासी को उन पर गर्व है।
स्वास्थ्य मंत्री ने इस मौके पर यह भी कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधिवत रूप से दिल्ली से इस टीकाकरण कार्यक्रम का शुंभारभ किया है। इसी कड़ी में हरियाणा प्रदेश में भी इस टीकाकरण का आज शुंभारभ हो गया है जिसके तहत पूरी सावधानी व निर्धारित मापदंडों के तहत लाभार्थियों को वैक्सीन लगाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि भारत सरकार द्वारा दोनों वैक्सीनों को पूरी ट्रायल के बाद लांच किया गया है तथा दोनों वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है और सबसे बड़ी खुशी की बात है कि यह भारत द्वारा निर्मित है। उन्होंने जानकारी के क्रम में बताया कि प्रदेश में कोविशील्ड वैक्सीन के तहत 2 लाख 41 हजार 500 डोज़स व 20 हजार कोवैक्सीन की डोज़ अभी मिली है जिसके तहत लगभग 1 लाख 30 हजार लोगों को क्रमबद्ध तरीके से वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा। जैसे-जैसे वैक्सीन मिलती रहेगी उसी निरंतरता में लाभर्थियों को वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि प्रथम चरण में फ्रंट लाईन के तहत काम करने वालों में डाक्टरों, हैल्थ वर्करों, पुलिस, सफाई कर्मियों को यह वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा, इसके बाद क्रमबद्ध तरीके से निर्धारित मापदंडों के तहत दूसरे लाभार्थियों को यह वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि प्रदेश में कुल 63 लाख लोगों को यह वैक्सीन लगाई जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी बताया कि 50 साल से ऊपर आयु वर्ग के लोगों को भी यह वैक्सीन लगाई जाएगी इसके साथ-साथ 50 साल से कम आयु वर्ग के वह लोग जो किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त है उन्हें भी स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों अनुसार वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।