हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग को कोविशिल्ड वैक्सीन की 2,41,500 खुराक प्राप्त हुई
January 14th, 2021 | Post by :- | 33 Views

चंडीगढ़, (विजय)- हरियाणा स्वास्थ्य विभाग आगामी 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण शुरू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। कोविड-19 वैक्सीन लगाने के प्रथम चरण में विभाग के पास आज पुणे से कोविशिल्ड वैक्सीन की 2,41,500 खुराक पहुंची। ये वैक्सीन पंचकुला के उपायुक्त श्री मुकेश कुमार आहूजा, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन हरियाणा के निदेशक (प्रशासन) डॉ. बी.के. राजोरा और एसपीआईओ डॉ. वीरेंद्र अहलावत ने आज चंडीगढ़ अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर प्राप्त की।

स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा ने बताया कि हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग को आज कोविशिल्ड वैक्सीन की 2,41,500 खुराक प्राप्त हुई हैं। इसके बाद ये वैक्सीन कुरुक्षेत्र के ‘स्टेट वैक्सीन स्टोर’ में ले जाई गई, जहां उन्हें कुरुक्षेत्र के सिविल सर्जन श्री सुखबीर सिंह और डीआईओ (जिला प्रतिरक्षण अधिकारी) डॉ. अनुपमा सिंह को सौंप दिया गया। श्री अरोड़ा ने आगे बताया कि राज्य भर में 113 ‘इम्यूनाइजेशन सैशन साईट्स’ की पहचान की गई है। ‘हैल्थ केयर वर्करों’ (एचसीडब्ल्यू)को वैक्सीन पहले लगाई जाएगी। प्रत्येक ‘सैशन साईट्स’ पर वैक्सीनेटरों द्वारा 100 लाभार्थियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इस संबंध में ‘कोविन पोर्टल’ पर पहले ही जानकारी अपलोड की जा चुकी है। जल्द ही वैक्सीन लगाने के लिए प्रशासन द्वारा लाभार्थियों को संदेश भेजा जाएगा।
स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने ‘ड्राई-रन’ के संचालन की पूरी कवायद को फायदेमंद बताते हुए कहा कि ड्राई-रन के संचालन के बाद यह पता चला कि एक वैक्सीनेटर 100 लाभार्थियों को वैक्सीन दे सकता है। इस प्रकार, प्रत्येक ‘सैशन साईट्स’ पर टीकाकरण अधिकारियों की एक पांच सदस्यीय टीम नियुक्त की जाएगी, जो यह सुनिश्चित करेगी कि वैक्सीनेशन के समय सोशल-डिस्टेंसिंग का पालन किया जाए। उन्होंने बताया कि वैक्सीन लगाने से पहले प्रत्येक लाभार्थी के पास पहुंचे उस संदेश की जांच की जाएगी, जो प्रशासन ने भेजा है। वैक्सीन के बाद लाभार्थी इंतजार करेगा और उसको सावधानी बरतने के लिए निर्देशित किया जाएगा। श्री अरोड़ा ने यह भी बताया कि वैक्सीन लगाने के बाद लाभार्थी को सोशल-डिस्टेंसिंग, श्वसन-स्वच्छता, हाथ की स्वच्छता के नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।