करसोग में डोर टू डोर कलेक्शन का कार्य 14 दिन में ही बन्द, अब अगले महीने 700 घरों से उठाया जाएगा कूड़ा।
September 16th, 2019 | Post by :- | 92 Views

मंडी,करसोग (मोहन शर्मा):- करसोग में टेंपरेरी डंपिंग साइट पर लोगों के विरोध के बाद नगर पंचायत ने घरों से कूड़ा उठाने का काम बंद कर दिया है। अब नगर पंचायत की अपनी रेगुलर डंपिंग साइट का कार्य पूरा होने के बाद ही इस योजना को फिर से अगले महीने शुरू किया जाएगा। नगर पंचायत ने एक महीने में कार्य पूरा करने का अल्टीमेटम जारी कर दिया है। राजधानी शिमला की तर्ज पर करसोग नगर पंचायत ने अपनी परिधि में 26 अगस्त से पहली बार डोर टू डोर गारबेज कलेक्शन योजना शुरू की गई थी । इसके लिए करसोग से कुछ दूरी पर टेंपरेरी डंपिंग साइट भी चयनित की गई थी, लेकिन स्थानीय जनता के भारी विरोध के बाद ऐसे बंद करना पड़ा। ऐसे में नगर पंचायत को 14 दिनों में ही घरों से कूड़ा उठाने की योजना को बंद करना पड़ा। अब इस योजना को रेगुलर डंपिंग साइट के बाद फिर से शुरू किया जाएगा। इसके लिए अक्टूबर महीने के दूसरे सप्ताह तक काम पूरा करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

700 घरों से उठाया जाएगा कूड़ा:

करसोग की स्वच्छ एवं साफ सुथरा रखने में लिए अब अगले महीने से 700 घरों से कूड़ा उठाने का कार्य शुरू किया जाएगा। तब तक नगर पंचायत की अपनी रेगुलर डंपिंग साइट का कार्य भी पूर्ण हो जाएगा। इतने बड़े स्तर पर डोर टू डोर गारबेज कलेक्शन योजना फिर से शुरू होने से स्थानीय लोगों को भी रोजगार मिलेगा। जिस वक्त योजना को शुरू किया गया उस समय नगर पंचायत को गीले व सूखे कचरे को लेकर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। इस लिए अगले महीने योजना शुरू किए जाने से पहले अब लोगों को गिला और सूखा कचरा अगल अलग रखने के बारे में जगरुक भी किया जा रहा है। ताकि फिर से योजना शुरू होने पर किसी भी तरह की दिक्कतें पेश न आ सके। पहले घरों से कूड़ा उठाने की योजना को 450 घरों में शुरू किया गया था, लेकिन अब अगले महीने से इस योजना का दायरा बढ़ाया जा रहा है। नगर पंचायत ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है।

अक्टूबर में फिर शुरू होगी योजना : सचिव
नगर पंचायत के सचिव एवम तसीलदार करसोग संजीत शर्मा का कहना है कि अक्टूबर महीने से फिर डोर टू डोर गारबेज कलेक्शन योजना को शुरू किया जा रहा है। तब तक रेगुलर डंपिंग साइट का कार्य भी पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि करसोग में कूड़े की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है। इस दिशा में काफी प्रयासों के बाद घरों से कूड़ा उठाने की योजना को आरंभ किया गया था, लेकिन जनता का सहयोग न मिलने के कारण इस योजना को बंद करना पड़ा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।