14 नामजद सहित दो अन्य के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज
September 16th, 2019 | Post by :- | 103 Views
नूंह।  जिले के बावला गांव में हुए मर्डर में तावडू पुलिस की लापरवाही का मामला सामने आया है लापरवाही बरतने का आरोप किसी आम आदमी ने नहीं बल्कि मृतक व्यक्ति के परिजनों ने लगाया है।  पत्रकारों से बातचीत के दौरान परिजनों ने दो टूक कहा कि पुलिस को पहले ही शिकायत दे दी थी और हादसे के अंदेशा जता दी गई थी लेकिन पुलिस ने गंभीरता नहीं दिखाई जिसकी वजह से आज एक इंसान अब हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह चुका है। पुलिस अपने ऊपर लगे आरोपों के अलावा बावला गांव में हुए मर्डर मामले में कुछ भी बोलने से साफ कतरा रही है
बता दें कि गांव बावला में शुक्रवार को दो पक्षों में हुए झगडे में एक व्यक्ति की मौत के बाद तनाव बना हुआ है। जिसे देखते हुए पुलिस प्रशासन की और से सुरक्षा को लेकर पीड़ित परिवार के घरों पर पुलिस बल तैनात किया गया है। मामले को लेकर पुलिस ने 14 नामजद व दो अन्य सहित 16 के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुटीं है।
पीड़ित साहून पुत्र गफूर ने पुलिस को दिए गए बयान में बताया कि पीड़ित व आरोपी पक्ष की कुछ जमीन साजे में थी। जिसका बिरादरी तौर पर 6 माह पहले पीड़ित पक्ष को डेढ़ लाख रुपए देने का फैसला किया गया। फैसले के अनुसार जून महीनें में आरोपी पक्ष को रूपये देने थे। लेकिन बार-बार रूपये मांगने पर आरोपी टरकाते रहे। पीड़ित का आरोप है कि जब शुक्रवार को उन्होंने अपने पैसे मांगे तो आरोपियों ने उन्हें अंजाम भुगतने की धमकी दी और देर शाम आरोपियों ने हम मशवरा कर लाठी, डंडा ,अवैध हथियार से लैस होकर पीड़ित पक्ष के लोगों पर हमला कर दिया। हमले में पीड़ित पक्ष के गफूर पुत्र हनीफ की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि तारिफ, साहून, इसलाम, सरीफ व सोयब भी गोली लगने से घायल हो गए। झगड़े का शोर सुनकर जब ग्रामीण मौके पहुंचे तो आरोपी मौके से भाग गए। घायलों को उपचार के लिए नलहड में भर्ती कराया गया है।
पुलिस ने पीड़ित के ब्यान पर नूर मोहम्मद , हारूण, शेरू, जैकम, सकरूल्ला, हासिम, जाकिर, जायदा, फातमा, वसीमा, अम्मन निवासीयान बावला  सरफु  गांव डिडारा थाना तावडू, ताजुल्ला  निवासी गांव सुनहेड़ा व समीम निवासी गांव मालब व दो अन्य गांव सालाहेड़ी थाना नूंह के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।