किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी का रेल रोको आंदोलन 60 वें दिन में दाखिल ,जत्थेबंदी ने नही लिया आंदोलन वापिस ।
November 22nd, 2020 | Post by :- | 243 Views
रेल रोको आंदोलन 60 वें दिन में दाखिल ,नही लिया आंदोलन वापिस ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
किसान मज़दूर सँघर्ष कमेटी पंजाब के राज्य प्रधान सतनाम सिंह पन्नु ने कहा कि हम पहले फैसले के अनुसार माल गाड़ियों के लिए रास्ता खुला रखेंगे ।माल गाड़ियों के लिए 22 अक्तूबर से ही रेल ट्रैक खाली हैं ।जो व्यापारियों और किसानों को आज समस्याएं आ रही हैं ,उसके लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार है ना कि किसान ।पंजाब सरकार ऐसे हालातों से निपटने के लिए तैयारी करने की जगह जत्थेबंदियो पर प्रचार के माध्यम द्वारा दबाव ना बनाये ।यदि केंद्र कहे  हमे गाड़ियां चलानी हैं तो पहले सरकार कृषि कानून लागू करे इसलिए कि ऐसी स्तिथि में पंजाब सरकार केंद्र के आगे घुटने झुकायेगी  या ट्रकों द्वारा सप्लाई करेगी ।एक।दिन हमे ऐसी स्तिथि का सामना करना पड़ेगा ।सरवन।सिंह पंधेर की अध्यक्षता में आज तरसिक्का ब्लॉक के 16 गांवों में दिल्ली जाने के लिए तैयारी कराई गई ।केंद्र सरकार के।साथ टाकरा करने के लिए किसान मज़दूरो ने मन बना लिया है ।इस मौके पर रणजीत सिंह कलेरबाला ,जर्मनजीत सिंह बंडाला ,सुखदेव सिंह चाटीविंड हाज़िर थे ।रेल रोको आंदोलन को।संबोधित करते हुए इंद्रजीत सिंह कल्लीवाल ,राणा रणबीर सिंह ने कहा कि केंद्र पूरी तरह फुट डालने की कोशिश कर रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।