इलाहाबाद-झांसी स्नातक निर्वाचन क्षेत्र चुनाव में सपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार के लिए आए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल
November 22nd, 2020 | Post by :- | 49 Views

प्रयागराज। इलाहाबाद-झांसी स्नातक निर्वाचन क्षेत्र चुनाव में सपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार के लिए आए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने पुरानी पेंशन बहाली की घोषणा की। पार्टी कार्यालय में शनिवार को प्रचार अभियान की समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि 2022 में सपा की सरकार बनी तो पुरानी पेंशन की व्यवस्था बहाल की जाएगी। उन्होंने वित्तविहीन शिक्षकों का मानदेय 35 हजार रुपये किए जाने, शिक्षा मित्रों को नियमित किए जाने समेत सपा सरकार की कई उपलब्धियों को गिनाया और पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में वोट की अपील की। साथ ही उन्होंने प्रदेश की सभी 11 सीटों पर जीत का दावा किया। प्रदेश अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से मतदाताओं के घर-घर जाकर उन्हें घर से निकालने और पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में वोट डलवाने की अपील की।उन्होंने कहा कि सपा प्रत्याशी डॉ.मान सिंह यादव चुनाव जीतने पर स्नातकों, बेरोजगारों, प्रतियोगी छात्रों, शिक्षकों की समस्याओं को विधान परिषद् में मजबूती के साथ उठाएंगे और सपा की सरकार बनने पर समस्याओं को हल करने का प्रयास करेंगे।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से चुनाव में धांधली के प्रति सजग रहने की भी बात कही। प्रदेश अध्यक्ष ने करछना के राम नगर में कार्यकर्ताओं की सभा को भी संबोधित किया और 2022 में जीत का दावा किया। नरेश उत्तम पटेल ने फाफामऊ के बनाई का पूरा एवं सोेराव कउे बाबू बिहारी इंटर कॉलेज की सभा को भी संबोधित किया। प्रदेश अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री रामपूजन पटेल के आवास पर भी गए और उनके स्वस्थ होने की कामना की।

रामपूजन कई दिनों से बीमार चल रहे हैं। इससे पहले कार्यकर्ताओं ने भड़ेवरा, रामनगर, नैनी, तेलियरगंज, फाफामऊ, सोरांव आदि स्थानों पर प्रदेश अध्यक्ष का स्वागत किया। बैठक की अध्यक ्षता सैयद इफ्तेख़ार हुसैन एवं संचालन रवींद्र यादव ने किया। बैठक और स्वागत करने वालों में जिलाध्यक्ष योगेश चंद्र यादव, पूर्व प्रदेश प्रवक्ता केके श्रीवास्तव, संदीप पटेल,पूर्व महासचिव दूधनाथ पटेल, कुलदीप यादव,आदि लोग मौजूद रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।