प्रधानमंत्री आवास योजना में अपात्र हितग्राहियों पर की थी जिला पंचायत सीईओ ने कार्यवाही जहां ब्लॉक समन्वयक ने 11 अपात्र हितग्राहियों का दिया था साथ,
November 15th, 2020 | Post by :- | 295 Views

*प्रधानमंत्री आवास योजना में अपात्र हितग्राहियों पर की थी जिला पंचायत सीईओ ने कार्यवाही ब्लॉक समन्वय ने 11 अपात्र हितग्राहियों का दिया साथ*

जिला पंचायत सीईओ ने सभी अपात्र हितग्राहियों का किया तीसरे किस्त पर रोक

*मालखरौदा ब्लॉक समन्वय कमल बारेठ भी निकले दो कदम आगे अपने उच्च अधिकारी के आदेश को किया दरकिनार*

अपात्र हितग्राहियों के भी हौसले बुलंद पुराने मकान को ही जिओ टेक करा दिया

 

*जांजगीर-चांपा* जिले के छोटे सीपत ग्राम पंचायत के पात्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास दिया जा रहा था जिस पर जिला पंचायत सीईओ को सूचना मिलने के बाद तत्काल जांच टीम गठित कर ग्राम पंचायत छोटे सीपत भेजा गया था जिसमें जांच टीम द्वारा बताया गया था कि अपात्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिया जा रहा था जिस पर जिला पंचायत सीईओ ने सभी के दूसरी किस्त के बाद खाते को होल्ड कर दिया गया जिसके बाद 2 साल बाद मालखरौदा ब्लॉक समन्वय को लेनदेन के मामले में मालखरौदा जनपद से हटाया गया जिसके बाद मालखरौदा में नए ब्लॉक समन्वय लाया गया अब ओ भी सभी में लिप्त नजर आ रहे हैं

*प्रधानमंत्री आवास योजना में अपात्र हितग्राहियों को दिया गया था आवास का लाभ*

मालखरौदा जनपद पंचायत अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत छोटे सीपत में कुल 11 अपात्र हितग्राहियों को पात्र बना करके आवास मित्र द्वारा प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिया जा रहा था जिसमें मालखरौदा ब्लॉक समन्वय सौरभ साहू और आवास मित्र के द्वारा लेनदेन का भी शिकायत हुआ था जिस को पूर्व जिला पंचायत सीईओ ने सभी हितग्राहियों के किस्त को रोक लगा दिया गया था लेकिन अब नए ब्लॉक समन्वय आने के बाद हितग्राहियों के साथ सांठगांठ कर दिया गया फिर से उन्हें रुके हुए किस्त को दे दिया गया मालखरौदा ब्लॉक समन्वय कमल बारेठ ने आपने उच्च अधिकारी के आदेश तक को भी दरकिनार कर दिया

*पूर्व जिला पंचायत सीईओ ने किया था तत्काल कार्रवाई करते हुए जांच टीम गठित*

जब मामला जिला पंचायत सीईओ को मिला कि मालखरौदा जनपद पंचायत अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत छोटे सीपत में अपात्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिया जा रहा है साथ ही मालखरौदा के पूर्व ब्लॉक समन्वय सौरोभ साहू और आवास मित्र के बीच पैसा लेनदेन का जानकारी मिली तो पूर्व जिला पंचायत सीईओ ने मामले के लिए जिला से जांच टीम गठित किया गया था जिस पर सभी बातों को सही पाए जाने के बाद सभी अपात्र हितग्राहियों के 2 किस्त के बाद होल्ड कर दिया गया था जिसको मालखरौदा के नए ब्लॉक समन्वय ने सभी अपात्र हितग्राहियों से सांठगांठ कर होल्ड किए गए किस्तों को दिला दिए हैं

 

*तकनीकी सहायकों का भी भारी लापरवाही देखने को मिल रहा है*

मामले में एक और हैरान करने वाली बात सामने आई है पुराने मकान को ही जिओ टेक कर किस्त निकालने का भी मामला सामने आ रहा है जानकारी के मुताबिक जितने भी 11 अपात्र हितग्राहि है ओ सभी आपने पुराने मकान को ही बता कर जिओ टेक करवाया जा रहा है जब की तकनीकी सहायक का काम ही रहता है कि जब तक मकान सही तरीके से नहीं बान जाती तब तक उस पर नजर बनाए रखना अनिवार्य है फिर भी तकनीकी सहायक रहते भी पुराने मकान को जियो टेक कर प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उठाने में मस्त है कहीं ना कहीं इसमें ब्लॉक समन्वय का हाथ है तभी तो मालखरौदा में अपात्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना में लाभ देने के लगातार शिकायत मिल रही है

*मालखरौदा ब्लॉक समन्वय बैठ के करेंगे बात नहीं दे पाए जवाब*

जब मामले को लेकर मालखरौदा के ब्लॉक समन्वक से बात किया गाय तो अजीबो गरीब जवाब सुनने को मिला ब्लॉक समन्वय का कहना है कि मामले कि जांच जिला से किया जा गया था जिस पर जिला सीईओ ने तत्काल कार्रवाई करते हुए जांच टीम गठित किया था इस के बाद ब्लॉक समन्वय कमल बारेठ ने बात को घूमना शुरू कर दिया फिर एक जगह बैठ कर बात करने की बात कही इस से मालखरौदा ब्लॉक समन्वय के ऊपर सवाल उठान शुरू हो गया है कि मामला क्या है जो बैठ कर बात करने की बात बोल रहे हैं ब्लॉक समन्वय कमल बारेठ

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।