इको कार में लगी आग, DSP बलवीर सिंह ने दिखाई तत्परता, पुलिस अधीक्षक करेंगे सम्मानित
November 15th, 2020 | Post by :- | 542 Views

होडल, (मधुसूदन), राष्ट्रीय राजमार्ग बामनिखेरा के निकट पुलिस लाईन के पास शनिवार सुबह तीन बजे ईको कार में अचानक आग लग गई। रात्रि गश्त के दौरान ड्यूटी चैकिंग कर रहे डीएसपी बलवीर सिंह ने अपने ड्राईवर व गनमैन की मदद से कार सवार छह लोगों की आनन-फानन में जान बचाई। कार में दो महिलाओं सहित छह लोग सवार थे जो कि दिल्ली से मथुरा अपने घर जा रहे थे।

डीएसपी होडल बलवीर सिंह ने बताया कि रात्रि गश्त के दौरान व ड्यूटी चैकिंग कर रहे थे और साथ में ड्राईवर हवलदार संदीप व गनमैन हवलदार अनिल कुमार भी मौजूद थे। उसी दौरान देखा कि अटोहां मोड़ से पुलिस लाईन तक जाम लगा हुआ था और वाहन हाईवे पर इधर-उधर फंसे हुए थे। मौके पर जाकर देखा तो एक ईको कार में आग लगी हुई थी और कुछ लोग उसमें अंदर फंसे थे। सभी को चालक व गनमैन की मदद से जैसे-तैसे बाहर निकाला जिनमें दो बच्चे व दो महिला और दो व्यक्ति शामिल थे। सभी को आग ने अपनी चपेट में लिया हुआ था। आनन-फानन में उन पर जमकर रेत डाला गया। उसी दौरान होड़ल की तरफ से एक एंबुलेंस आ गई जिसे रुकवाकर सभी लोगों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया। प्राथमिक उपचार के बाद सभी को लगभग सुबह 4 बजे दिल्ली सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया।

कार में सवार लोग शंकुतला, कृष्ण, अर्मिता, अंश, मुरारी व हर्ष थे जो कि एक ही परिवार के हैं और मथुरा जिले के सौंख गांव निवासी है। ये परिवार दिल्ली स्थित अपने किसी रिश्तेदार के वहां से अपने घर जा रहा था। डीएसपी ने बताया कि सफदरजंग अस्पताल में फोन कर उक्त लोगों से बात की गई है तो उन्होंने बताया कि एक महिला शंकुतला की हालात नाजुक है बाकी सभी लोग बिल्कुल सही है जिनको अस्पताल से छुट्टी दे गई है।
पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत ने पुलिस टीम द्वारा किए गए इस नेक काम के लिए उनकी सराहना की है तथा उन्हें उचित इनाम तथा प्रशंसा पत्र देने की घोषणा की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।