छत्तीसगढ़ में सत्ता बदली पर नहीं बदले तो वह है किसानों की हालत, जहां किसानों को था बोनस का इंतजार पर अब तक नहीं मिला बोनस का तीसरा किस्त जिसके चलते यह दिवाली हुआ किसानों के लिए फीका,
November 11th, 2020 | Post by :- | 277 Views

*छत्तीसगढ़ में सत्ता बदली पर नहीं बदले तो वह है किसानों के हालात*

किसानों को था इस दीपावली बोनस का इंतजार पर अब तक नहीं मिला तीसरा किस्त

*पिरदा के 269 किसानों को नहीं मिला बोनस का तीसरा किस्त, किसानों का दीपावली हुई फीकी,चेहरे पर छाया मायूसी*

*जांजगीर चांपा ।* जिले के मालखरौदा ब्लॉक में संचालित जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित बिलासपुर के शाखा मालखरौदा के अंतर्गत सेवा सहकारी समिति बड़े सीपत के आश्रित धान खरीदी केंद्र सेवा सहकारी समिति पिरदा के किसानों को 1 नवंबर 2020 को मिलने वाली राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत तीसरी किश्त कि बोनस राशि आज तक किसानों के खाते में नहीं पहुंचा है हम आपको बता दें कि सेवा सहकारी समिति पिरदा में कूल 269 पंजीकृत किसान है जिन्होंने पिछले वर्ष सन 2019 एवं 20 में समर्थन मूल्य पर धान की बिक्री सेवा सहकारी समिति पिरदा में की गई थी छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी किया गया था जिसमें शासन द्वारा प्रति क्विंटल ₹2500 के भाव से खरीदी की गई थी जिसका 685 रुपये अंतर की राशि को सरकार द्वारा चार किस्तों में बोनस राशि को देने का वादा किया गया था जिनमें किसानों के खाते में दो किस्त पहुंच चुका है परन्तु अभी तीसरा किश्त 1 नवंबर 2020 को सरकार द्वारा किसानों के खाते में डाला गया जो अभी 10 दिन बीत जाने के बाद भी नहीं पहुँचा है ग्राम पिरदा के किसानों के खाते में बोनस राशि नहीं पहुंचा है किसान तीसरी किस्त बोनस राशि के लिए किसान बैंकों की चक्कर काट रहे हैं परंतु किसानों के खाते में तीसरी किस्त बोनस राशि की फूटी कौड़ी भी जमा नहीं हुआ है जिस कारण किसान दर-दर भटक रहे हैं किसान बैंकों में जाकर बैलेंस चेक करवा रहे है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।