जिला पंचायत सीईओ के आदेश आने के बाद भी जनपद पंचायत सीईओ संदीप पोयम है अनजान
November 10th, 2020 | Post by :- | 58 Views
जिला पंचायत सीईओ के आदेश आने के बाद भी जनपद पंचायत सीईओ संदीप पोयम है अनजान

*जिला पंचायत सीईओ के आदेश आने के बाद भी जनपद पंचायत सीईओ संदीप पोयम है अनजान*

आदेश का होगा पालन जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल

*खिलेश्वर चन्द्रा सचिव के ऊपर लगा था 13 वित्त के राशि को गबन करने का आरोप ….. अभी भी सिंघरा और डोमा में है जमें है भ्रष्ट सचिव*

 

*जांजगीर चांपा* । पूरा मामला जांजगीर चांपा जिले के मालखरौदा जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत सिघंरा के सचिव खिलेशवर प्रसाद चंद्र को दो दो ग्राम पंचायत का जिम्म दिया गया है सिंघरा के अवाला उन्हें ग्राम पंचायत डोमा का भी अतिरिक्त प्रभार दिया गया है उनके ऊपर तेरहवें एवं चौदहवें वित्त की राशि मे घोटाले की शिकायत मिलने पर उन्हें जिपं सीईओ ने मालखरौदा जनपद में अटैच कर दिया गया है यह आदेश जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल के द्वारा दिए गए हैं उन्हें आदेश दिया 1 माह के ऊपर हो गया लेकिन जनपद सीईओ आपने उच्च अधिकारी के आदेश को ठेंगा दिखाते नजर आ रहे हैं अभी भी दोनों ग्राम पंचायत मैं जमे हुए हैं क्योंकि उन्हें दोनों गांव की मलाई मिल रही है जानकारी के मुताबिक पता चला है कि ग्राम पंचायत में उनके द्वारा व्यापक गड़बड़ी की जा रही है13वे एवं 14 की राशि में सचिव लाखों रुपए का गबन किया था जिसकी शिकायत जिला पंचायत में हुई थी यही वजह है कि उन्हें जनपद कार्यालय अटैच कर दिया गया हैं लेकिन जिपं के आदेश की खुलेआम धज्जियां उड़ा रही है वजह यह है कि उन्हें जनपद सीईओ ने अपनी करीबी बनाकर रखा है

*क्या कहते हैं मालखरौदा जनपद पंचायत सीईओ*

मामले में मालखरौदा जनपद पंचायत सीईओ का कहना कि मुझे किसी प्रकार का कोई आदेश नहीं मिला है गलत जानकारी मिली है एं कहना है जनपद सीईओ तो क्या एं जिला का आदेश नहीं दिख रहा है जनपद सीईओ को या जानबूझ कर अनजान बन रहे हैं जनपद सीईओ

*जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल*

आदेश किया गया है तो उस आदेश का पालन करना पड़े गा जनपद सीईओ से बात कर मामले का करेंगे निराकरण और सचिव पर भी होगी जल्द कार्यवाही जिला पंचायत सीईओ

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।