लक्ष्मणगढ़ थाना पुलिस में एक दुकानदार ने वैगनआर गाड़ी में आये बदमाशो के द्वारा दुकान में घुस कर उसके साथ मारपीट करने और चोरी की नीयत से 5500 रुपये ओर सोने की अंगूठी ले जाने का मामला दर्ज
November 4th, 2020 | Post by :- | 79 Views

भरतपुर (शौकत अली)

 

 

लक्ष्मणगढ़ थाना पुलिस में एक दुकानदार ने वैगनआर गाड़ी में आये बदमाशो के द्वारा दुकान में घुस कर उसके साथ मारपीट करने और चोरी की नीयत से 5500 रुपये ओर सोने की अंगूठी ले जाने का मामला दर्ज करवाया है।

जानकारी के अनुसार जितेन्द्र सिंह उर्फ जीतू निवासी मन्जपता ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि कस्बे के जालूकी रोड पर अजय मशीनरी स्टोर के नाम से उसकी दुकान है। उसकी दुकान पर एक वैगनआर में सवार होकर तीन व्यक्ति आये ओर 6 एमएम तार की रेट पूछी लेकिन लेकर नही गये कुछ देर बाद वापस आये और 350 फुट तार खरीद लिया ओर पैसे कुछ देर बाद में देने की बात कही, ओर 20 फूट तार एक मिस्त्री को दिला दिया। फिर शाम लगभग 5.30 बजे गाड़ी में रखे सरिये लेकर दुकान में लूट करने की नीयत से दुकान में घुसे ओर उसके साथ लात घुसो के मारपीट करने लगे और उसका गला दबा कर दुकान का सामान लूटने लग गये ओर जेब मे रखें 5500 रुपये व हाथ में पहने सोने की अंगूठी को चोरी की नीयत से ले गये। इसी बीच पुलिस क्यूआरटी टीम को आती देख आरोपी अपनी कार को छोड़ कर फरार हो गये। पर शर्म की बात यह रही जिले की जो स्पेशल पुलिस फोर्स टीम होती है ( कोबरा टीम) जिन के समक्ष घटना घटित हुई थी और आरोपित वाहन को छोड़कर चले गए कोबरा टीम के पास वाहन था फिर भी कोबरा टीम को कैसे चकमा देकर भाग निकले और कोबरा टीम हाथ मलते रह गई।वही पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच प्रारम्भ कर दी है। इधर कस्बे में दिनदहाड़े इस तरह की घटना को लेकर ऑटो पार्ट्स मशीनरी यूनियन के पदाधिकारियों में रोष व्याप्त है और इस घटना को लेकर लक्ष्मणगढ़ थाना पुलिस अजीत सिंह से मिले और शीघ्र अति शीघ्र घटना में लिफ्ट आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग की गई। और कस्बे वासियों में भी इस घटना को लेकर भारी रोष व्याप्त है कि सरेआम इस तरह बाजार के अंदर दिनदहाड़े इस तरह की घटना को अंजाम देना बड़ा सोचनीय विषय है और अब देखना यह है की पुलिस कब तक अपराधियों की पकड़ तक पहुंच पाती है या नहीं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।