सरकार व्यापारी, उद्योगपति व आम जनता की जान माल की सुरक्षा करने में विफल सिद्ध हुई है- बजरंग गर्ग
October 29th, 2020 | Post by :- | 152 Views

अंबाला , बराड़ा ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी )
हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व हरियाणा कान्फैड के पूर्व चेयरमैन बजरंग गर्ग ने कहा की बराड़ा में गोविंद ज्वेलर्स में अपराधियों द्वारा दिनदहाड़े हथियार की नोक पर लगभग 1 करोड रुपए के आभूषण, सोना व चांदी के अलावा 4 लाख नगद राशि लूटकर डकैती करने की घटना पर गंभीर चिंता प्रकट करते हुए। हरियाणा प्रदेश में लगातार बिगड़ती कानून व्यवस्था पर भारी नाराजगी जताई। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने पीड़ित व्यापारी नरेंद्र कुमार से टेलीफोन पर बातचीत की व पुलिस प्रशासन को तुरंत अपराधियों को पकड़ कर माल बरामद करने के लिए टेलीफोन पर कहा।

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा की प्रदेश में हर रोज व्यापारी व उद्योगपतियों से लूटपाट, डकैती, फिरौती, हत्या व चोरियों की वारदातें हो रही है। यहा तक की बल्लभगढ़ में दिनदहाड़े छात्रा निकिता तोमर की गोली मारकर हत्या करना आज प्रदेश में व्यापारी, उद्योगपति, महिलाएं, कर्मचारी व आम जनता कोई भी सुरक्षित नहीं है। यहां तक की इस राज्य में बहन, बेटियां भी सुरक्षित नहीं है सरकार का बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा तो सिर्फ ढकोसला व खोखला नारा बनकर रह गया। सरकार की लापरवाही के कारण प्रदेश में जंगलराज कायम है शांति प्रिया हरियाणा आज अपराध का अड्डा बन चुका है। केंद्र क्राइम ब्यूरो के हिसाब से हरियाणा प्रदेश देश के अपराध व बेरोजगारी में अव्वल स्थान पर है। सरकार प्रदेश के व्यापारी, उद्योगपति व आम जनता की जान माल की सुरक्षा करने में विफल सिद्ध हुई है।

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व गृह मंत्री अनिल विज से मांग की है की वह बराडा के व्यापारी नरेंद्र कुमार की दुकान पर हुई डकैती करने वाले अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करवा कर व्यापारी का माल बरामद कराया जाए और छात्रा नितिका के हत्यारों को केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चला कर अपराधियों को जल्द से जल्द फांसी दिलाने के लिए पुलिस प्रशासन सख्त से सख्त कार्रवाई करें। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा की प्रदेश में व्यापारी, उद्योगपति, महिलाएं व आम जनता अपनी जान माल की सुरक्षा के लिए पूरी तरह से भयभीत है। सरकार को हरियाणा में अपराध पर अंकुश लगाने के लिए कठोर से कठोर कदम उठाने चाहिए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।