भाजपा ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट (40 बिंदुओं का बनाया घोषणा पत्र)
October 27th, 2020 | Post by :- | 155 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । नगर निगम चुनाव 2020 को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने विजन डॉक्यूमेंट जारी किया हैं। 40 बिंदुओं का भाजपा ने विजन डॉक्यूमेंट बनाया गया है। पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने कहा कि जयपुर का केंद्र सरकार के सहयोग से मास्टर ड्रेनेज प्लान बनाया जाएगा। पार्किंग की व्यवस्था को सुधारा जाएगा। जेडीए के मास्टर प्लान में आवासीय क्षेत्र में चलने वाली एक्टिविटी पर भी वादा, साथ ही कमर्शियल एक्टिविटी को नियमित करने के लिए योजना बनाने का वादा किया हैं। अशोक परनामी ने कहा कि कोरोनाकाल में राज्य की ओर से कोई पैकेज नहीं दिया गया। सरकार 4 महीनों के बिजली के बिल माफ करें। कच्ची बस्ती के पट्टों का काम किया जाएगा। कैंप लगाकर कच्ची बस्ती में पट्टे दिए जाएंगे। बीजेपी का बोर्ड बनने पर स्कूलों का यूडी टैक्स माफ किया जाएगा। अंबेडकर भवन बनाने का भी काम किया जाएगा।
*रोड लाइट के साथ ही सामाजिक सुरक्षा जैसे मुद्दे:
केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने दृष्टि पत्र की जानकारी दी। ड्रेनेज सिस्टम को सुधारने की बात कही। स्थानीय निकायों के रेवेन्यू मॉडल में सुधार का मुद्दा, रोड लाइट के साथ ही सामाजिक सुरक्षा जैसे मुद्दे, कच्ची बस्तियों के पट्टों का मुद्दे विजन डॉक्यूमेंट दर्शाये गए हैं। अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि दृष्टि पत्र में सीवरेज से लेकर सड़क और सफाई तक के प्रावधान किए। दृष्टि पत्र में हर वर्ग को छूने की कोशिश की। वादा करते हैं कि नागरिकों की लाइफ़ को सुविधाजनक बनाएंगे।
*निकाय चुनाव को लेकर भाजपा का विजन डॉक्यूमेंट:
निकाय चुनाव को लेकर भाजपा ने विजन डॉक्यूमेंट जारी किए गया हैं। मेघवाल ने INDUSTRY 4.0 टेक्नोलॉजी का जिक्र किया है। जयपुर में 4.0 टेक्नोलॉजी लागू हो। नागरिकों की लाइफ बेहतर बने इसका विजन डॉक्यूमेंट में जिक्र किया। सफाई कर्मियों की भर्ती और उनका वेतन समय पर मिले उसकी व्यवस्था होगी। नागरिकों की लाइफ को सुविधाजनक बनाएंगे। भारत सरकार की योजनाओं का शहरों में विकास करेंगे। स्मार्ट सिटी, हैरिटेज, अमृत योजना का बेहतर काम करेंगे। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल, अरुण चतुर्वेदी और अशोक परनामी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।