विधायक ने टँगेल में किया “मेरी भावना” कार्यशाला का शुभारंभ
October 17th, 2020 | Post by :- | 119 Views

बराड़ा , मुलाना ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी )

हल्का मुलाना के गांव टँगेल में हरियाणा स्पोर्ट्स कराटे एसोसिएशन के माध्यम से बेटियों को आत्मरक्षा के गुर सिखाए जाने के लिए “मेरी भावना” कार्यशाला का शुभारंभ पहले नवरात्रे पर हल्का मुलाना विधायक वरुण चौधरी ने किया।विधायक ने बताया कि इस कार्यशाला में किक,बलॉक,अटैक व आत्मविश्वास बढ़ाने जैसे गुर सिखाए जाएंगे। पहले दिन इस कार्यशाला में 54 बेटियों ने अपना पंजीकरण करवाया।विधायक ने बेटियों को मेहनत और लगन से आत्मरक्षा के गुर सीखने के लिए प्रेरित किया।

उन्होंने कहा कि बेटियों के लिए मुलाना विधानसभा क्षेत्र के अनेकों गांव में हरियाणा स्पोर्ट्स कराटे एसोसिएशन के माध्यम से ये कार्यशालाएं चलाई जाएंगी जो आज मातारानी के आशीर्वाद से पहले नवरात्रे 17 अक्तूबर से 31 दिसंबर तक चलाई जाएगी। इस कार्यशाला की मुख्यता बात रहेगी कि बेटियां बेटियों को आत्मरक्षा के गुर सिखाएगी। इस प्रशिक्षण को ब्लैक बेल्ट शीटोरी स्टाइल कोच अंजली,मनिंदर तोमर,अर्चना ,और कुसुम, बेटियों को सिखाएंगी।यह प्रशिक्षण मुलाना विधानसभा क्षेत्र की बेटियों के लिए निशुल्क रहेगा।उन्होंने कहा कि आज लड़कियों को पढ़ने के साथ-साथ उन्हें मनचाहा काम करने की भी आजादी देनी होगी। तभी वे चुनौतियों के साथ अपनी जिम्मेदारी पूर्ण कर सकती हैं। बड़ी होती बेटियों के प्रति माता -पिता की जिम्मेदारियां भी बढ़ जाती हैं। इसलिए हर मां व पिता को चाहिए कि वे बेटी के आत्म-विश्वास को बढ़ाने का कार्य करें क्योंकि बेटियां हर काम पूरी लगन के साथ करती हैं। इसलिए हर माता-पिता का कर्तव्य है कि उसे सही दिशा में सोचना और काम करना सीखाएं। वह जरूर अपनी कामयाबी का झंडा बुलंद करेगी।इस कार्यक्रम के दौरान माताओं ने बेटियों के लिए चलाए जा रहे “मेरी भावना”कार्यक्रम के लिए विधायक का धन्यवाद किया और कहा कि यदि आप गांव में बेटियों के लिए ये कार्यशाला नही चलती तो इसके लिए बेटियों को बाहर भेजना मुश्किल था।आज नवरात्रे के शुभ अवसर पर विधायक ने कार्यशाला में उपस्थित बेटियों को फल वितरित किये।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।