जौनपुर।मङियाहू में बौखलाए दरोगा नें पत्रकारों से तुगलकी फरमान में कहा माईक असलहा थाना परिसर में लेकर दिखाइ दिए तो खैर नहीं।
October 12th, 2020 | Post by :- | 348 Views

जौनपुर।(फिरोज खान पठान) मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र में सोमवार की सुबह ककराही गांव में एक पक्ष द्वारा खुलेआम तलवारबाजी करने का विडियों वायरल की जानकारी हल्का दरोगा से लेने गए पत्रकारों पर दरोगा आग बबूला हो गए। दरोगा ने कहा कि तुम लोग अनाप शनाप समाचार निकालने का कोशिश करते हो। दरोगा यहीं नहीं रुका माइक आईडी को असलहा बताकर कोतवाली में दोबारा लेकर नहीं आने की तुगलकी फरमान सुना डाली।
बता दें कि सोमवार की सुबह ककराही गांव में दो पक्षों में जमकर तलवार एवं असलहा लहराया गया था। तलवार लहराने की वीडियो कैमरे में कैद हो गई। घटना की जानकारी क्षेत्र के हल्का दरोगा घनश्याम शुक्ला से लेने जब कोतवाली परिसर में कुछ पत्रकार पहुंचे और तलवारबाजी के घटना की जानकारी चाही तो दरोगा ने अपना आपा खो बैठे और पत्रकारों से ही अनाप-शनाप बकने लगे। जब पत्रकारों ने तलवार बाजी की वीडियो दिखाया तो वीडियो को फर्जी बताते हुए माइक आईडी को असलहा बताते हुए दरोगाजी कहने लगे कि तुम लोग हवालात के पास खड़े होकर थाने की गोपनीयता भंग करते हो दोबारा अगर माईक असलहा को लेकर कोतवाली परिसर में घुसे तो ठीक नहीं होगा। हल्का दरोगा के इस रवैया से क्षेत्र के पत्रकारों में पत्रकारों के साथ बदसलूकी करने की कड़ी निंदा किया है। मामला बढ़ता देख बगल बैठे एक दरोगा ने पत्रकारों को समझाते हुए कहा कि घनश्याम शुक्ला कोतवाली प्रभारी इंचार्ज से हटा दिए गए हैं जिसके कारण वह बौखला कर कोतवाली में आए हर फरियादी के साथ ऐसा व्यवहार कर रहे हैं आप लोग इसका अन्यथा न लें। जिसके बाद पत्रकार दरोगा के साथ घटित दुःखद घटना जानकर वापस चले आए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।