नशे का अखाड़ा न बने निर्माणाधीन कालका स्टेडियम,पहले की तरह लगे गेट : दीपांशु बंसल
September 13th, 2019 | Post by :- | 114 Views

हरपाल सिंह।
कालका। कांग्रेस छात्र संगठन,एनएसयूआई में राष्ट्रीय संयोजक व राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे दीपांशु बंसल ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय युवाओ को खेल के क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए खेल स्टेडियम बनाने की कवायद शुरू हुई थी जिसके बाद 2015 में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्टेडियम के शीघ्र निर्माण की घोषणा की थी परन्तु 5 वर्षो बीतने के पश्चात भी कालका के युवा खिलाड़ी खेल स्टेडियम के पूरे होने की उम्मीद लगाकर बैठे है।दीपांशु ने कहा कि निर्माणाधीन कालेज ग्राउंड अब नशेड़ियों का अड्डा बन चुका है और ज्यादातर आवारा पशु व नशेड़ी इसके निर्माण की बाधा बन चुके है।सरकार द्वारा स्टेडियम का असल काम पूरा नही हुआ,जहां फुटबाल ग्राउंड,एथलीट ट्रेक आदि के लिए जगह थी उसे तैयार होने से पहले से ही शरारती तत्वों द्वारा खराब करदिया गया और बाकी जो भी निर्माण कार्य होता है उसे शरारती तत्वों द्वारा खराब कर दिया जाता है।निर्माण से सम्बंधित मेटीरियल पदार्थ आदि भी यहां से चोरी हुए है और सरकार को लाखो रूपये का चूना लग रहा है परन्तु प्रशासन व सरकार का इस ओर कोई ध्यान नही है।स्वयं राष्ट्रीय खिलाड़ी होते हुए बंसल ने कॉलेज स्टेडियम की दयनीय हालत पर चिंता व्यक्त की है।

• दारू की टूटी हुई बोतलें-सिरेन्जिस-नशीले पदार्थो के कवरो से भरा पड़ा है ग्राउंड…
दीपांशु बंसल ने कहा कि जब उन्हें कालेज के छात्रों व युवाओ ने इस बारे सूचना दी तो उन्होंने मौके का मुयाना किया जहां उन्होंने देखा कि दारू की टूटी हुई बोतले,नशीले पदार्थो के सेवन करने पश्चात कवर,सिरेन्जिस आदि निर्माणाधीन कालेज ग्राउंड से भरी पड़ी मिली और आवारा पशु भी देखने को मिले जबकि गेट भी टूट हुए थे जिससे युवाओ का भविष्य अंधकार में दिखा और विधायक तथा सरकार के दावों की पोल खुलगी है।
• कब तक होना चाहिए था खेल स्टेडियम का निर्माण?…
दीपांशु बंसल ने कहा कालेज स्टेडियम 2016 तक बन जाना चाहिए था परन्तु अब फंड न होने की वजह से 1 साल से काम ही बन्द पड़ा है।जहा एक तरफ मुख्यमंत्री खेल में बढ़ावा का दावा करते है वही जिस स्टेडियम का निर्माण 6 महीने में होना चाहिए था उसे 60 महीनो में भी पूरा नही कर सके जोकि सरकार के दावों की पोल खोलता है।

दीपांशु ने हरियाणा सरकार से मांग की है कि सुरक्षा की नजर से निर्माणाधीन कालेज स्टेडियम पर स्टाफ उपलब्ध करवाया जाए जोकि निर्माण कार्य व समान की देखरेख करे और पहले की तरह गेट लगाकर शरारती तत्वों,नशेड़ियों व आवारा पशुओं की एंट्री को बंद किया जाए,स्टेडियम के शीघ्र निर्माण के लिए फंड रिलीज किया जाए।इसके साथ ही खेल स्टेडियम का निर्माण कार्य भी शीघ्र पूरा किया जाए जिससे खिलाडी अपनी प्रतिभा को आगे ला सके।

• इलाके में नही कोई खेल स्टेडियम …

दीपांशु बंसल ने बताया कि हल्के में कोई खेल स्टेडियम युवाओ के लिए नही है।भाजपा सरकार युवाओ व खिलाड़ियों के हित मे नही है।बंसल ने आश्वस्त किया कि यदि यहां से स्थानीय व सक्षम उम्मीदवार विजय बंसल को सेवा का मौका मिला तो ब्लाक स्तर पर खेल स्टेडियम का निर्माण करके युवाओ को खेल में बढ़ावा दिया जाएगा।
´

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।