नगरीय सीमा क्षेत्र में फ्लैग मार्च एरिया मजिस्ट्रेट करेंगे मुनादी – मेहता
September 21st, 2020 | Post by :- | 74 Views
बीकानेर (रामलाल लावा)  जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता ने पुलिस अधीक्षक प्रहलाद सिंह कृष्णिया के साथ सोमवार सुबह 11 बजे जिला मुख्यालय के नगरी सीमा क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया तथा आम लोगों को समझाया कि धारा 144 की पालना करते हुए 5 से अधिक व्यक्ति सार्वजनिक स्थानों पर इकट्ठे नहीं हो। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जारी निर्देशों के तहत सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए घर से बाहर निकले तो सभी  लोग मास्का का उपयोग करें।
       फ्लैग मार्च प्रारंभ होने से पूर्व जिला कलेक्ट्रेट परिसर में जिला मजिस्ट्रेट व पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस के अधिकारियों और सिपाहियों से बातचीत कर, उनकी भी हौसला अफजाई की और कहा कि आम लोगों को समझाइश करें कि यह आपके स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए धारा 144 लगाई गई है।
फ्लैग मार्च कलेक्ट्रेट परिसर से रवाना होकर महात्मा गांधी रोड,फड़ बाजार ,जस्सूसर गेट, दाऊजी मंदिर, जोशीवाड़ा, कोटगेट, रेलवे स्टेशन, रानी बाजार, गोगा गेट, पीबीएम अस्पताल से अंबेडकर सर्किल होते हुए पुनः कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचा।  फ्लैगमार्च में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पवन मीना, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर) सुनीता चैधरी, सीओ सिटी सुभाष शर्मा सहित राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी और पुलिस के जवान मोटरसाइकिल पर सवार थे।
धारा 144 की पालना सुनिश्चित कराने के उद्ेश्य से लिए निकाला गया फलैग मार्च शहर  के जिन-जिन क्षेत्र से गुजरा लोगों ने पुलिस के अधिकारी और जवानों की हौसला अफजाई करते हुए तालियां बजाई। बहुत से लोग अपने घरों की बालकाॅनी में खड़े होकर इस मार्च को देखा। कुछ युवा और बच्चे फ्लैग मार्च में शामिल जवानों और अधिकारियों को सेल्यूट कर अपनी भावना प्रकट कर रहे थे कि हमधारा 144 की पालना कर रहे हैं और आपके इस जज्बे को सलाम करते हैं।
एडवाइजरी की पालना में आमजन जुड़े
फ्लैगमार्च जब कोटगेट पहुंचा तो कुछ लोगों ने जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक से भी बातचीत कर यह विश्वास दिलाया  कि हम लोग एडवाइजरी की पालना अक्षरशः करेंगे। मेहता ने आमजन से बातचीत करते हुए कहा कि कोरोना को रोकने में आप नागरिकों का सहयोग आवश्यक है। लोग एक दूसरे को समझाइश कर कानून की पालना करवाने में प्रशासन से जुड़े। उन्होंने कहा कि एडवाईजरी की पालना नहीं करने पर अभी चालान कम काट रहे हैं और समझाइश अधिक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दुकानदारों से भी समय-समय पर बातचीत कर, उन्हें बताया जा रहा है कि बिना मास्क ना तो वे रहे और ना ही किसी व्यक्ति को सामान विक्रय करें। जितने अधिक लोग कोरोना एडवाईजरी की पालना से जुड़ेंगे उतनी ही जल्दी से  इस पर काबू पाया जा सकेगा।
फूल भेंट कर किया अभिवादन
जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षक जब कोटगेट पर आम लोगों से बातचीत कर रहे थे तो एक नवयुवक ने मेहता को गुलाब का फूल भेंट किया और कोट गेट के आसपास के निवासियों और व्यापारियों की तरफ से अभिवादन करते हुए यह विश्वास भी दिलाया कि इस क्षेत्र के लोग एडवाइजरी की पालना करवाने में प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। जिला पुलिस अधीक्षक प्रहलाद कृष्णिया ने कहा कि आमजन को कोविड-19 की एडवाईजरी तथा धारा 144 की पालना की जानकारी मिल सके इसके लिए पुलिस के जवानों के साथ फ्लैगमार्च किया गया है।
सभी एरिया मजिस्ट्रेट करेंगे मुनादी
जिला कलक्टर ने कहा कि जिला मुख्यालय की नगरीय सीमा में धारा 144 लागू की गई है। इसकी पालना करवाने के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में राजस्थान प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारियों को मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है। इन सभी अधिकारियों की गाड़ी में लाउडस्पीकर की व्यवस्था रहेगी और यह अधिकारी अपने अपने क्षेत्र में भ्रमण के दौरान मुनादी कर, आमजन को कोरोना एडवाईजरी की पालना आदि के बारे में बताएंगे।  मेहता ने बताया कि ऐसा प्रयोग इसलिए किया जा रहा है ताकि बार-बार लोगों को सुनाया जाए कि उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग रखनी है, मास्क लगाना है और 5 से अधिक लोगों को एक साथ इकट्ठा नहीं होना है। बार-बार सुनने से लोगों के जहन में  बात उतरेगी और वे एडवाईजरी की पालना को आत्मसात कर लेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।