कुरुक्षेत्र पुलिस ने अमेरिका भेजने के नाम पर 18 लाख रूपये ठगने वाले दो आरोपियों को किया गिरफ़्तार ।
September 20th, 2020 | Post by :- | 208 Views

कुरुक्षेत्र,( शिवचरण ) ।  जिला पुलिस कुरुक्षेत्र की एंटी नारकोटिक सैल ने अमेरिका भेजने के नाम पर भेज दिया मैडलिन, ठगे 18 लाख रूपये के दो आरोपियों को किया गिरफ्तार| जिला पुलिस कुरुक्षेत्र की एंटी नारकोटिक सैल ने अमेरिका भेजने के नाम पर भेज दिया मैडलिन, ठगे 18 लाख रूपये और  मैडलिन में फंसाकर उससे और पैसे मांगने के आरोप में दो आरोपियों को  गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है|

अमेरिका भेजना था पर भेज दिया मैडलिन : पुलिस अधीक्षक

यह जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र, श्रीमती आस्था मोदी ने  बताया

कि दिनांक 19 फरवरी 2020 को शोहिल पुत्र सोहन लाल गांव मथाना ने पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र दी अपनी शिकायत में बताया कि उसकी सिन्दर वासी कुराना पानीपत वा जसवन्त वासी कुराना से 18 लाख अमेरिका में काम करने के लिए बात हुई थी। सिन्दर वासी कुराना पानीपत वा जसवन्त वासी कुराना को दिनांक 19 फरवरी 2020 को उन्होंने उसको दिल्ली एयरपोर्ट से फलाईट में चढा दिया था। उसकी फलाईट पहले लीमा गई जहां पर एक दिन रूके उसके बाद साऊपोलो गई जहां पर 4 दिन रूके , उसके बाद एजैंट के आदमी ने उनको  साऊपोलो का बार्डर पार करवा दिया| उसके बाद वह बस द्वारा 3 दिन चलने के बाद पैरु पहुचें फिर एक्वाडोर पहुंचे जहां पर एक ओर एजेन्ट का आदमी मिला| जिसने उनको  कोलम्बिया के बार्डर पर पहुचां दिया | उसके बाद मैडलिन पहुचें, जहां पर एजैंट सतपाल ने फोन करके उनसे और पैसे मागें उसने अपने घर फोन करके इन्हे पैसे दिलवा दिये थे।  एजैंट सिकन्दर व जसवन्त ने मुझसे 18 लाख रु0 लेकर और उसको वहां पर फसाकर उससे फोन करवाकर उसके घरवालो से और भी पैसें एठें है| जिसकी शिकायत पर दिनांक 28 मई 2020 को  धोखाधड़ी,मानव तस्करी व इमीग्रेशन एक्ट के तहत  मामला दर्ज करके जाँच शुरू कर दी| जिसकी जाँच बाद में एंटी नारकोटिक सैल को सौंप दी| एंटी नारकोटिक सैल के प्रभारी निरीक्षक सुरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में उपनिरीक्षक बलजीत सिंह, हवलदार आजाद सिंह व चालक दिनेश कुमार  की टीम ने गत दिवस आरोपी सुरेन्द्र उर्फ़ सिन्दर वा जसवंत सिंह पुत्र रघबीर वासी कुराना जिला पानीपत को अदालत परिसर कुरुक्षेत्र से गिरफ्तार करके  एक दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर जाँच शुरू कर दी| जिनको अदालत के आदेश से कारागार भेज दिया|

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।