पोषण माह को लेकर मेला लगाया गया
September 13th, 2019 | Post by :- | 122 Views

गजसिंहपुर,(यश कुमार)। महिला एवं बाल विकास विभाग के निर्देशानुसार सितम्बर माह 2019 को पोषण माह के रूप में आयोजित करने के दिशा निर्देश दिए गए थे इसी पोषण माह के दौरान सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर कार्यक्रम आयोजित कर युवाओं, महिलाओं, बुजुर्गों, व अभिभावकों और बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा सहयोगिनी द्वारा पोषण माह के दौरान होने वाले कार्यक्रमों, सुझाव, व युवा शक्ति रैली, महिलाओं द्वारा रैली निकाल कर ग्राम वासियों को जागरूक करने का अभियान चल रहा है।

इस अभियान में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा यह अहम भूमिका निभाई जा रही है इसी पोषण माह के दौरान गजसिंहपुर कस्बे के व्यापार मंडल परिसर में पोषाहार के बारे में पोषण मेला कार्यक्रम आयोजित किया गया इस कार्यक्रम में वार्ड पार्षद कमलजीत सिंह हुंदल, पूर्व पार्षद गुरचरण सिंह, महिला सुपरवाइजर पुष्पा देवी एवं कस्बे के गणमान्य नागरिकगण व महिलाएं शामिल हुई ।

इस अवसर पर पार्षद कमलजीत सिंह हुंदल ने कहा कि आंगनबाड़ी स्टाफ द्वारा हर समय महिलाओं व बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों पर अपने बच्चों से भी बढ़कर प्रेम, प्यार व दुलार मिल रहा है तथा उन्होंने कहा कि आज मैं इस कार्यक्रम में शामिल हुआ व पोषण मेले के दौरान आटे से बनी व्यंजनों को चखकर उनकी गुणवत्ता की जांच की।

आंगनबाड़ी स्टाफ के द्वारा बनाए गए व्यंजन बहुत ही स्वादिष्ट साबित हुए इन व्यंजनों को ग्रहण करने से बच्चों मैं नाटापन, दुबलापन एव कुपोष की दर में कमी लाने तथा दूसरी तरफ गर्भवती व धात्री महिलाएं तथा 0-6 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चो के पोषण स्तर में सुधार लाया जा सकता है व महिला सुपरवाइजर पुष्पा देवी ने बताया कि आज के कार्यक्रम में हर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा आंगनबाड़ी में मिलने वाले आटे से बने व्यंजनों की प्रदर्शनी लगाई गई ।

इस प्रदर्शनी में मौजूद पार्षदों, गणमान्य नागरिकगणों व कस्बे की महिलाओं ने प्रशंसा की वहीं पुष्पा देवी ने बताया कि सही पोषण, देश रोशन के नारे एव स्तनपान की जानकारी दी गई तथा पोषण माह के अंतर्गत पोषण मेले को समस्त कार्यकर्ताओं ने सफल बनाया इस मौके पर सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उपस्थित थी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।