सरस्वती तीर्थ पिहोवा, सन्निहित व ब्रहमसरोवर कुरुक्षेत्र में 5 या 5 से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर लगाया प्रतिबंध
September 15th, 2020 | Post by :- | 76 Views

कुरुक्षेत्र, ( सुरेशपाल सिंहमार )    ।   जिलाधीश एवं उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि कोविड-19 महामारी के मध्यनजर सरस्वती तीर्थ पिहोवा, सन्निहित व ब्रहमसरोवर कुरुक्षेत्र में 16 व 17 सितम्बर को आश्विन मास की चौदस व अमावस्या के दौरान काफी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना है। भारत तथा हरियाणा सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश अनुसार कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए सरस्वती तीर्थ पिहोवा, सन्निहित व ब्रहमसरोवर कुरुक्षेत्र में यात्रियों के आगमन को प्रतिबंधित किया गया है। इसके साथ-साथ  सरस्वती तीर्थ पर किए जाने वाले धार्मिक अनुष्ठान के स्थानों को प्रतिबंधित किया गया है।

उन्होंने मंगलवार को देर रात्रि द्वारा जारी आदेशों में कहा कि दंड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा 144 में वर्णित शक्तियों के तहत जिला कुरुक्षेत्र में तुरंत प्रभाव से 16 व 17 सितंबर को सरस्वती तीर्थ पिहोवा, सन्निहित व ब्रहमसरोवर कुरुक्षेत्र में आश्विन मास की चौदस व अमावस्या के दौरान 5 या 5 से अधिक श्रद्धालु/व्यक्तियों के इक_ा होने व कर्मकांड/पिंडदान के कार्य को प्रतिबंधित कर धारा 144 लगाई जाती है। पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र व संबंधित थाना प्रभारी अपने-अपने नियंत्रण क्षेत्र में 16 व 17 सितंबर को कुरुक्षेत्र में भारी वाहनों/यातायात को अपनी निगरानी से निकलवाना सूचित करेंगे। यदि कोई व्यक्ति इन आदेशों की अवहेलना करता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।