हिंदी दिवस के अवसर पर पीकेआर जैन पब्लिक स्कूल द्वारा भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
September 14th, 2020 | Post by :- | 47 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा) भावों की अभिव्यक्ति का माध्यम है भाषा और हम हिंदुस्तानियों को आत्म संतुष्टि तभी प्राप्त होती है जब हम अपनी भावनाओं को अपनी हिंदी अर्थात अपनी मातृभाषा में व्यक्त करें।
हिंदी दिवस के अवसर पर पीकेआर जैन पब्लिक स्कूल द्वारा भाषण प्रतियोगिता एवं काव्य पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।भाषण प्रतियोगिता के विषय रहे “कोरोना वायरस -रुक गया प्रगति का पथ “,”आपातकाल में मोबाइल ही एकमात्र सहारा” और कविता पाठ प्रतियोगिता का विषय रहा समसामयिक ।छठी से दसवीं तक के छात्रों ने इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर भाग लिया लगभग 60 बच्चों ने इसमें भाग लिया और सभी छात्रों ने बड़ी ही सफलता से अभी अपनी भावनाओं की अभिव्यक्ति अपनी भाषा के माध्यम से की। विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती नीरू शर्मा ने बताया की जहां एक ओर अंग्रेजी अपना प्रभाव बढ़ा रही है वही हमारी आज की पीढ़ी मातृभाषा की ओर निरंतर आकृष्ट भी हो रही है। हिंदी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने आज की ऑनलाइन प्रतियोगिता की सफलता का पूरा श्रेय अभिभावकों विशेष तौर पर माताओं को दिया जिनकी मेहनत ने बच्चों की इस प्रतिभा को निखारा।
विद्यालय के प्रधान श्री धर्मपाल जैन एवं समस्त कार्यकारिणी ने सभी को हिंदी दिवस की शुभकामनाएं दी एवं अपने राष्ट्र तथा अपने राष्ट्रभाषा की गरिमा को बनाए रखने की प्रेरणा दी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।