डी.एल.एड परीक्षा को स्थगित करने से प्रशिक्षुओं ने दिखाया रोष
September 11th, 2020 | Post by :- | 169 Views

लोकहित एक्सप्रेस हिमाचल:- हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा डी.एल.एड. की परीक्षाएं नवंबर-दिसंबर माह से स्थगित कर मार्च-अप्रैल में करवाने की घोषणा का डी.एल.एड. प्रशिक्षुओं के अभिभावकों ने विरोध किया है। ज़िला मण्डी डाइट व निजी संस्थानो के डी.एल.एड. प्रशिक्षुओं ने जारी संयुक्त बयान में कहा कि एक तरफ तो शिक्षा बोर्ड टैट तथा स्नातक कि परीक्षाएं भी ले रहे हैं वहीं दूसरी तरफ डी.एल.एड. की परीक्षाएं स्थगित करने का नोटिस निकाल चुका है।
सभी प्रशिक्षुओं का यह भी कहना है की अगर उनकी परीक्षाएं मार्च के बाद होती है तथा कमिशन आ जाता है तो उनकी पात्रता नहीं हो पाएगी तथा उसके लिए कौन जिम्मेबार होगा।
जेबीटी/डीएलएड प्रशिक्षित बेरोज़गार संघ ने भी इस बात से निराश ज़ाहिर करते हुए कहा की अगर इसी वर्ष अगर डी.एल.एड के अंतिम बैच की परीक्षा अगर ले ली जाएगी तो भविष्य में होने वाले जेबीटी के रिक्त पदों पर होने वाले कमीशन में वो लोग भी बैठ पाएँगे।क्यूँकि जेबीटी/डी.एल.एड की ट्रेनिंग करने के एक दम बाद वो जेबीटी पद पर लगने के लिए भी योग्य हो जाते हैं और हाल ही में जेबीटी की 1225 रिक्त पद भी हिमाचल सरकार द्वारा निकाली गयी हैं जिसकी राह जेबीटी/डी.एल.एड के अंतिम वर्ष वाले प्रशिक्षु भी देख रहे हैं, ऐसे में अगर उनकी परीक्षा ही अगले वर्ष करवाई जाएगी तो वो इस कारण 1225 नई रिक्त पदों पर समय रहते आवेदन नही कर पाएँगे। साथ ही इसके अतिरिक्त समयानुसार बी.एड. तथा अन्य दुसरे विषयों में दाखिला नहीं ले पाएंगे। ऐसे में उनका 1 वर्ष व्यर्थ चला जाएगा। साथ ही उन्होने कहा कि बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखकर ही डी.एल.एड की परीक्षाएं निर्धारित समय में इसी वर्ष नवंबर में करवाई जाएं।ताकि उनका होने वाला एक वर्ष बेकार ना जाए। उन्हें आशा है की सरकार उनके भविष्य को मद्देनज़र रखते हुए कोई ठीक निर्णय जल्द ही लेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।