नया क़ृषि अध्यादेश किसानों के हित में ,जिससे अन्नदाता की आर्थिक आजादी की शुरुआत होगी :- समय भाटी
September 8th, 2020 | Post by :- | 166 Views

बाबैन (गोस्वामी )- भाजपा किसान मोर्चा द्वारा बाबैन के एक निजी पैलेस में किसान संगोष्ठी आयोजित की गइ जिसमें क्षेत्र के गांवों से सैकड़ों किसानों ने भाग लिया। इस अवसर पर भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष समय सिंह भाटी, पूर्व विधायक डा. पवन सैनी, जिलाध्यक्ष राजकुमार सैनी, जसविन्द्र सैनी, ओमवीर लालर, जसविन्द्र सैनी जस्सी, देश राज शर्मा, धर्मवीर, परमजीत कौर कश्यप, निशा महेश्वरी, जिला परिषद सदस्य रीना सैनी, सुरेश कश्यप, सूर्या सैनी, बलदेव कल्याण, बलदेव खैरी, हैरी सैनी, आश कुमार, डिम्पल सैनी के अलावा अनेक भाजपा नेता उपस्थित थे। इस अवसर पर भाजपा कार्यकत्ताओं ने समय ङ्क्षसह भाटी, राजकुमार सैनी, डा. पवन सैनी सहित भाजपा के कई अन्य नेताओं को पगड़ी पहनाकर व शाल देकर उनका सम्मान किया गया। को इस अवसर पर बोलते हुए समय ङ्क्षसह भाटी ने कहा कि नया कृषि अध्यादेश किसानों के हित में है जिससे अन्नदाता की आर्थिक आजादी की शुरुआत होगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा किसानों के हित में किए गए अनेक जन्कल्याण के कार्यों से आज विपक्षमुद्दा विहिन हो गया है और अपनी राजनीति विरासत बचाने के लिए जानबूझकर किसानों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहाकि नए अध्यादेशों से किसानों को अब अपनी फसलें देश में कहीं भी ऊंचे दाम पर बेचने की आजादी होगी। समय सिंह भाटी ने कहा कि कुछ लोग किसान यूनियन के नाम पर दुकानदारी चला रहे हैं और किसानों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहाकि भाकियू के लोग विपक्ष के साथ मिलकर किसानों के अधिकारों का दमन करने के पक्षधर हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने कभी नहीं कहा कि किसानों की फसल नहीं खरीदी जाएगी और सरकार धान की फसल का एक-एक दाना सरकारी दरों पर खरीदेगी।
इस अवसर पर बोलते हुए लाडवा के पूर्व विधायक डा. पवन सैनी ने कहा कि देश में वन नेशन वन मार्केट पॉलिसी लागू होने से किसान पूरे देश में कहीं भी अपनी फसल को ऊंचे दाम पर बेच सकेगा। उन्होंने कहाकि यदि कोई कंपनी या व्यापारी किसानों को सरकार द्वारा निर्धारित एमएसपी से अधिक दाम देकर उसकी फसल खरीदना चाहता है तो किसान को पूरा अधिकार होगा कि वह पूरे देश में अपनी फसल को किसी को भी बेच सकता है। उन्होंने किसानों से कहाकि वे किसानों के नाम पर राजनीति करने वाले लोगों से सावधान रहें क्योंकि ऐसे लोग सिर्फ सौदेबाज होते हैं जिन्हें किसान से कोई मतलब नहीं। उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसी पहली सरकार है। जिसने किसानों की पेंशन योजना किसान सम्मान निधि के नाम से शुरू करके उन्हें 6 हजार रुपये सालाना पेंशन देने का प्रावधान तय किया है।
इस अवसर पर भाजपा के जिलाध्यक्ष राजकुमार सैनी ने कहाकि सरकार ने खेती को बढ़ावा देने के लिए ग्राम पंचायतों और किसान समितियों के माध्यम से किसानों को 80 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर कृषि यंत्र उपलब्ध करवाए है जो पूरे देश में एक मिशाल है। उन्होंने कहाकि जो किसान कृषि यंत्र खरीदने में सक्षम नहीं है वे किसान अपना समूह बना कर सरकार से कृषि यंत्र ले सकते हैं। उन्होंने कहाकि सरकार ने कभी भी नहीं कहा कि वह किसान की फसल नहीं खरीदेगी। किसान की फसल का दाना दाना खरीदा जाएगा ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।