कुरुक्षेत्र उपायुक्त ने कोरोना महामारी को लेकर किसान रैली को नहीं दी अनुमति ।
September 8th, 2020 | Post by :- | 651 Views
किसान यूनियन के नेताओं से की बातचीत, स्वास्थ्य सुरक्षा व स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशानुसार नहीं दी जा सकती रैली की अनुमति, आदेशों की अवहेलना पर होगी कानूनी कार्रवाई, एसपी को दिए कानून व्यवस्था बनाएं रखने के आदेश 

कुरुक्षेत्र ,( शिवचरण ) ।  उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन हरियाणा द्वारा अनाजमंडी पिपली में 10 सिंतबर 2020 की रैली को लेकर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इस जिले में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या तेजी के साथ बढ़ रही है। इसलिए किसानों व आमजन की स्वास्थ्य सुरक्षा व स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को जहन में रखते हुए रैली करने की अनुमति प्रदान नहीं की है। अगर इस रैली का आयोजन किया जाता है तो वह गैर कानूनी होगा और आयोजकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने जारी आदेशों में कहा है कि कोरोना वायरस का संक्रमण विश्व भर मेंं फैल चुका है और महामारी का रूप ले चुका है। इस महामारी से कुरुक्षेत्र भी अछूता नहीं रहा है ऐेसे कठिन दौर में भारतीय किसान यूनियन हरियाणा द्वारा अनाज मंडी पिपली में 10 सिंतबर 2020 को रैल किए जाने बारें प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इस रैली में अन्य जिलों से भी किसानों के भाग लेेने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। क्योंकि उक्त रैली में भीड़ आने से कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने का खतरा है, इससे रैली में आने वालें किसानों का कोरोना वायरस से संक्रमित होने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता। इन तमाम पहलुओं को जहन में रखते हुए आमजन व किसानों की स्वास्थ्य सुरक्षा व स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को देखते हुए किसान रैली करने की अनुमति प्रदान नहीं की है। अगर इस किसान  रैली का आयेाजन होता है तो वह गैर कानूनी है और आयेाजकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को भी शहर में कानून व्यवस्था बनाएं रखने के लिए कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए है।

एसडीएम थानेसर अखिल पिलानी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रशासन के संज्ञान में आया है कि भारतीय किसान यूनियन द्वारा पिपली अनाज मंडी मेंं 10 सिंतबर को किसान रैली का आयेाजन किया जा रहा है। लेकिन वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते कुरुक्षेत्र में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, इस विषय को गंभीरता को लेते हुए प्रशासन ने किसान यूनियन से वार्तालाप कर रैली ना करने का अनुरोध किया लेकिन इस विषय में समाधान नहीं हो पाया। उन्होंने एक बार फिर से किसानों से अनुरोध करते हुए कहा कि अपनी, अपने परिजनों, कुरुक्षेत्रवासियों व प्रदेशवासियों की सुरक्षा के लिए रैली का आयोजन ना करें, प्रशासन के बार-बार अपील करने के बावजूद अगर रैली का आयेाजन किया जाता है तो आयोजकों के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट, एमडैमिक एक्ट, सीआरपीसी और आईपीसी एक्ट के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।