आयुर्वेद में समाहित औषधियों के सेवन और वि को लेकर समुचे प्रदेश में लोगों को जागरूक कर रहा हंै आयुष विभाग – गृह, स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्री अनिल विज।
September 7th, 2020 | Post by :- | 190 Views

अम्बाला (अशोक शर्मा)
-कोरोना के संक्रमण को रोकने और शारीरिक क्षमता तथा दक्षता बढ़ाने में आयुर्वेदिक पद्घति बहुत ही लाभदायक हैं। हमारी आयुर्वेदिक पद्घति का पूरे विश्व में अनुसरणीय स्थान हैं। आयुर्वेद में सम्माहित औषधियां कोरोना के खिलाफ लडऩे में मदद करती हैं तथा शारीरिक ताकत को बढ़ाने का काम करती है। समूचे हरियाणा प्रदेश में आयुर्वेदिक पद्घति का भी प्रचार और प्रसार जारी है। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में लाखों की संख्या में पम्फलेट और प्रचार साहित्य वितरित किया गया है। कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने और शारीरिक क्षमता और दक्षता बढ़ाने में आयुर्वेदिक पद्घति बहुत ही फायदेमंद है। उन्होंने कहा कि शारीरिक क्षमता बढ़ाने में आयुर्वेद पद्घति का महत्व और बढ़ा है। हमें पद्घति को अंगीकृत करते हुए इसका लाभ उठाने की जरूरत है।
विज ने कहा कि पुरी दुनिया कोरोना माहामारी से जूझ रही है और हम भी इससे अछूते नही हैं। सरकार द्वारा हर तरीके से कोरोना के संक्रमण को रोकने के प्रयास जारी हैं। इसमें हमें आशातीत सफलता भी मिल रही है। ठीक होने वालोंका ग्राफ भी जरूरत इस बात की है कि लोग सरकार द्वारा जारी निर्देशों की पालना के तहत सामाजिक दूरी बनाएं रखें, मास्क इत्यादि का प्रयोग करें, हैंड सैनिटाइजर व साबुन पानी से हाथ साफ करते रहें। आयुर्वेदिक चिकित्सकों द्वारा बताई गई औषधियों का भी उनकी सलाह से प्रयोग करते रहें ताकि शरीर की क्षमता और दक्षता अपेक्षाकृत और मजबूत हो सके। सरकार ने कोरोना टेस्टिंग मशीनो की व्यवस्था की हैं जिसके चलते प्रदेंश में अपेक्षा$कृत अधिक टेस्ट किए जा रहे हैं।
इस विषय को लेकर जब डा0 सतपाल जिला आयुर्वेदिक अधिकारी से बात की गई तो उन्होने बताया कि लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव सम्बधी विषय को लेकर प्रचार अभियान चलाया गया था । प्रचार वाहन के साथ -साथ एक लाख पैम्पफ लेट का भी वितरण किया जा रहा है, जिनमें आयुष मंत्रालय के द्वारा सुझाए गए तरीकों को अपनाने बारें विस्तार से बताया गया । लोगो को पद्घति के बारे में समय समय पर अब भी जागरूक किया जा रहा हैं।
उन्होनें यह भी बताया कि विभिन्न विभागों के जरुरी सेवाओं में जुटे कोरोना योद्घाओं की इम्यूनिटी पावर (रोग प्रतिरोधक क्षमता) बढ़ाने को आयुष मंत्रालय द्वारा चुनी गई आयुर्वेदिक औषधियों जैसे गुढुची, घन वटी, शमसनी वटी, अनु तेल बांटी गई। इसमें मुख्यत: पंचायती राज विभाग के कर्मचारी, पुलिस विभाग के कर्मचारी, नगर निगम के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के कर्मचारी तथा वृद्वाश्रम में रहने वाले वृद्घ लोगों सहित कोरोना योद्घाओं और आम जन को ये दवाईयां बांटी गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।