सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचाने के जुर्म मे सात आरोपियों को भेजा जेल।
September 6th, 2020 | Post by :- | 156 Views

पंचकूला।(मनीषा) मोहित हांडा भापुसे पुलिस उपायुक्त पंचकूला के दिशा-निर्देशानुसार जिला में अपराधों पर रोकथाम लगाते हुए तथा असामाजिक तत्वों पर लगाम लगाने के लिए पंचकूला पुलिस को कड़े दिशा-निर्देश दिये हुए है। इन दिशा-निर्देशों की पालना करते हुए थाना कालका की टीम ने बुधवार को  सात आरोपी चार महिलाएं सहित गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार किये गये आरोपियों की पहचान  जोगिन्द्र सिह पुत्र सुक्कड़, प्रेम चन्द पुत्र छीतरु राम ,जीत राम पुत्र सुक्कड़ व चार महिलाओं छतरो देवी, जीतो देवी, भागो देवी, किरणा देवी जिनकी पहचान गांव टगंरा कालका पंचकूला के रुप मे हुई। जानकारी के अनुसार दिनाक 18.07.2020 को सुभाष चन्द्र कार्यकारी अभियन्ता ने थाना कालका मे शिकायत दर्ज करवाई थी की गांव टगरा हंसुआ कालका मे नगर निगम द्वारा बनाई की गली व निकासी हेतु डाली गई पाईप को निकालने व गली को तोडऩे बारे।  सुभाष चन्द्र ने बताया की जब वह गली का निरिक्षण हेतु कनिष्क इन्जिनियर व साथी टीम के साथ वहां पर काम करने गये तो वहा पर पाईप नही मिली व जिस गली का निर्माण किया गया था वह गली तोड़ी हुई मिली । कार्य करने हेतु गई टीम को कार्य करने पर लोगों ने विरोध किया व वहा पर काम नही करने दिया। सुभाष चन्द्र अभियन्ता ने थाना कालका मे शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत पर थाना कालका ने अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी सम्पति को नुकसान पहुचाने के जुर्म व कर्मचारी के सरकारी कार्य करने मे बाधा डालने के आरोप मे धारा 186/332 भा.द.स  धारा 3 सार्वजनिक संपत्ति अधिनियम के तहत दिंनाक 01.08.2020 को उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ अभियाग दर्ज किया गया। जिस पर अनुसधानकर्ता ने अभियोग मे गहनता से जांच करते हुए। उपरोक्त आरोपियों को गिरफ्तार करके माननीय अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत मे भेज दिया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।