महानिरीक्षक पुलिस स्वयं वीडियो काॅलिंग के जरिये करेंगे सुनवाई
September 2nd, 2020 | Post by :- | 18 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । महानिरीक्षक पुलिस जयपुर रेंज श्री एस. सेंगाथिर ने बताया कि कोरोना काल में अभिनव पहल के तहत जयपुर रेंज द्वारा आमजन की सुगमता एवं सुरक्षा हेतु’ई-सुनवाई एवं ई-समाधान’की शुरूआत की गई है। कोरोना संक्रमित व्यक्तियों एवं कन्टेनमेंट जोन/लाॅकडाउन जोन अथवा विदेशों में रह रहे व्यक्तियों की वीडियो काॅलिंग के जरिये जयपुर रेंज के जिलों अलवर/भिवाडी/दौसा/सीकर/जयपुर ग्रामीण/झुन्झुनू के निवासियों हेतु पुलिस से संबंधित समस्याओं की सुनवाई की व्यवस्था की गई है। श्री सेंगाथिर ने बताया कि जयपुर रेंज से संबंधित समस्त प्रकार की पुलिस से संबंधित समस्याओं का निराकरण ई-सुनवाई के द्वारा किया जावेगा। कोविड-19 वायरस से संक्रमित व्यक्ति। होम आईसोलेशन,संस्थागत क्वारेंटाइन किये गये व्यक्ति। कन्टेनमेंट जोन/लाॅकडाउन क्षेत्र में निवास करने वाले व्यक्ति एवं राजस्थान के अतिरिक्त अन्य प्रदेशों अथवा विदेशों में रह रहे व्यक्तिगत रूप से उपस्थित नहीं हो सकने वाले व्यक्ति ई-सुनवाई एवं समाधान का उपयोग कर सकते है। ई-सुनवाई एवं समाधान से जुडने के लिए संबंधित व्यक्ति को व्हाट्स-एप नंबर 9530427722 पर अपने नाम, पता व उम्र तथा संक्षिप्त समस्या सहित रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके पश्चात उन्हे ई-सुनवाई से जुड़ने,तिथि तथा समय इत्यादि से संबंधित जानकारी उनके व्हाट्स-एप नंबर पर साझा की जायेगी। निर्धारित समय एवं निर्देशित लिंक के माध्यम से वीडियो काॅन्फ्रेन्स के जरिये किसी भी प्रकार की पुलिस से संबंधित समस्या हेतु स्वयं श्री एस. सेंगाथिर, महानिरीक्षक पुलिस, जयपुर रेंज, जयपुर को अवगत करा सकेगें।
*साप्ताहिक वीडियो काॅन्फ्रेसिंग व्यवस्था:
प्रारंभिक रूप से ई-सुनवाई एवं समाधान से साप्ताहिक वीडियो कान्फ्रेन्स के माध्यम से सुनवाई की व्यवस्था की गई है। जिसमें व्हाट्स-एप नंबर पर रजिस्टर्ड होने वाले परिवादियों की प्रत्येक सप्ताह वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समस्याओं की सुनवाई की जाकर विधिसम्मत कार्यवाही सुनिश्चित की जाकर समस्याओं का निराकरण किया जावेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।