डीसी अशोक कुमार शर्मा ने जुम वीसी के माध्यम से ली अधिकारियों की बैठक–सम्बन्धित विषयों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश।
August 31st, 2020 | Post by :- | 87 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा) कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने, प्रधानमंत्री सवनिधि स्कीम, पल्स पोलियो अभियान इत्यादि विषयों को लेकर उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने सोमवार को विडियो कॉन्फ्रैंस के माध्यम से अधिकारियों के साथ बैठक की। वीसी में अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि वे कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किए जा रहे प्रयासों और कार्यों का जिम्मेदारी के साथ निर्वाह करें। प्रधानमंत्री सवनिधि स्कीम, पल्स पोलियो अभियान विषयों पर भी उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों से चर्चा करते हुए सभी विषयों पर आवश्यक दिशा-निर्देश देेते हुए कहा कि सवनिधि स्कीम के तहत अधिक से अधिक लाभार्थी लाभान्वित हों, इस पर सुचारू रूप से काम करने की जरूरत है, साथ ही आगामी 21 सितम्बर को पल्स पोलियो अभियान संबधी विषय को लेकर अग्रीम तैयारी की जानी भी लाजमी है। इस विषय को लेकर सावधानी के साथ तैयारी करने की जरूरत है।
उपायुक्त ने मीटिंग के दौरान सम्बन्धित एसडीएम को कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत उनके क्षेत्रों में जो कोविड केयर सैंटर स्थापित किए गये हैं वे समय-समय पर उनका निरीक्षण करते रहें, वहां की मूलभूत सुविधाओं का जायजा लें और जो व्यक्ति वहां पर उपचाराधीन है उसको इस वायरस से घबराने की बजाए उसको प्रेरित करें कि वह जल्द ही ठीक होकर अपने घर जायेगा। साकारात्मक सोच के साथ उसे प्रोत्साहित करें। इस कड़ी में योगा व अन्य गतिविधियों के माध्यम से यह कार्य किया भी जा रहा है।
जुम मीटिंग में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने भी कोविड-19 के दृष्टिगत किए गये प्रबंधों की विस्तार से जानकारी दी। उप सिविल सर्जन डा0 बेला शर्मा ने उपायुक्त को अवगत करवाया कि 21 सितम्बर को पल्स पोलियो अभियान का कार्यक्रम प्रस्तावित है। कोरोना के चलते पल्स पोलियो अभियान के टारगेट को पूरा करना एक चैलेंज के बराबर है। उन्होंने इस कार्य के लिए प्रशासन का सहयोग देने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग व शिक्षा विभाग का सहयोग बेहद जरूरी है। आंगनवाड़ी वर्कर को इसकी ट्रेनिंग देना अनिवार्य है ताकि हिदायतों की पालना सुनिश्चित करते हुए पल्स पोलियो अभियान को पूरा किया जा सके।
मीटिंग के क्रम में डीसी ने प्रधानमंत्री सवनिधि स्कीम के बारे में भी विस्तार से चर्चा की और इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर करते हुए लाभार्थियों को इसके लिए प्रेरित करते हुए लाभान्वित करने का काम करें। उन्होंने एलडीएम को निर्देश दिये कि जिन भी बैंको में स्ट्रीट वैंडर ने इस स्कीम के तहत आवेदन किया है उसको तुरंत औपचारिकताएं पूरी करते हुए इसका लाभ दिलवाना सुनिश्चित करें, उसे बैंक के अनावश्यक चक्कर न लगाने पड़ें। सम्बन्धित एसडीएम भी इस कार्य में विशेष रूचि रखते हुए इस कार्य को करवाना सुनिश्चित करें। नगरपालिका, नगर परिषद के माध्यम से इस कार्य को तेजी से करवाएं और साथ ही जहां पर वैंडर पंजीकृत हैं वहां पर जाकर उनका फार्म भरते हुए बैंक अकाउंट लेकर इस कार्य को तेजी से करवाएं। उन्होंने कहा कि जो बैंकर्स इस कार्य में रूचि नहीं दिखा रहे उनकी भी डिटेल भी उपायुक्त कार्यालय को भिजवाई जाए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सवनिधि स्कीम केन्द्र सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है तथा इसके तहत लाभार्थियों को बिना ब्याज के लाभ देने का काम किया जा रहा है। इसलिए सम्बन्धित अधिकारियों को इस कार्य को प्राथमिकता से करवाना सुनिश्चित करना है।
जुम मीटिंग में एडीसी प्रीति, एसडीएम सचिन गुप्ता, एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग, एसडीएम गिरीश चावला, एसडीएम डा0 वैशाली शर्मा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, एलडीएम डी.के. गुप्ता के साथ-साथ अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।
बॉक्स:- प्रधानमंत्री सवनिधि स्कीम के तहत 10 हजार रूपये का प्रारम्भिक कार्य करने हेतु ऋ ण की सुविधा है, ऋण वापिसी एक वर्ष में 12 मासिक किश्तों के माध्यम से, ऋ ण पर किसी भी प्रकार की बंधक गारंटी देय नहीं, समय से पहले ऋ ण वापिसी करने पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज सबसीडी, डिजीटल लेनदेन पर 50-100 तक की दर से ब्याज वापिसी (कैंशबंैक प्रोत्साहन) आदि शामिल हैं।
बॉक्स:- बैठक के दौरान डीसी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को घर आईसोलेशन संबधी विषय पर निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे ही व्यक्ति को घर में आईसोलेट किया जाए जिसके पास पर्याप्त जगह हैं और जिस व्यक्ति के पास आईसोलेशन के लिए जगह नहीं है उसके घर में आईसोलेशन नही किया जाए, ऐसा करने से परिवार भी खतरे में आ सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।