जिले में शनिवार को आए 17 नये कोरोना पॉजिटिव: डा0 जितेन्द्र कादयान
August 30th, 2020 | Post by :- | 98 Views
 भिवानी जिले में शनिवार को 17 नये कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए है। जिनमें से 3 वार्ड 11 लोहारू से 2 गांव मुंढ़ाल कलां से 5 ढि़गावा से 1 गांव बजीणा से 1 गांव छप्पार रंगरान से तथा 5 गांव दिनोद से है। अब तक जिले में कुल 1304 कोरोना पॉजिटिव हो चुके है जिसमें से 1074 ठीक हो चुके है। अब जिले में कोरोना के 218 एक्टिव केस है। खबर लिखे जाने तक शनिवार को जिले से 800 सैम्पल लिए जा चुके है। जिले में शनिवार को 28 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए है।
सिविल सर्जन डा. जितेन्द्र कादयान ने बताया कि भिवानी जिले में शनिवार को 17 नये कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए है। जिनमें से 3 वार्ड 11 लोहारू से 40 वर्षीय व्यक्ति, 7 वर्षीय लड़का तथा 40 वर्षीय व्यक्ति है। 2 गांव मुंढ़ाल कलां से 10 वर्षीय लड़का तथा 48 वर्षीय व्यक्ति है। 5 ढि़गावा से 39 वर्षीय महिला, 29 वर्षीय महिला, 35 वर्षीय व्यक्ति, 39 वर्षीय व्यक्ति, तथा 35 वर्षीय व्यक्ति है। 1 गांव बजीणा से 14 वर्षीय लड़का है। 1 गांव छप्पार रंगरान से 48 वर्षीय व्यक्ति है तथा 5 गांव दिनोद से 32 वर्षीय व्यक्ति, 34 वर्षीय व्यक्ति, 45 वर्षीय व्यक्ति, 51 वर्षीय व्यक्ति तथा 33 वर्षीय व्यक्ति है।
सिविल सर्जन ने बताया कि अब तक जिले में कुल 1304 कोरोना पॉजिटिव हो चुके है जिसमें से 1074 ठीक हो चुके है। अब जिले में कोरोना के 218 एक्टिव केस है। खबर लिखे जाने तक शनिवार को जिले से 800 सैम्पल लिए जा चुके है। जिले में शनिवार को 28 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए है।
वहीं सिविल सर्जन डा0 कादयान ने जिलेवासियों से अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखने की अपील की है। अगर किसी भी व्यक्ति को जुकाम-बुखार या गले में तकलीफ होती है तो वह तुरन्त डाक्टर से संपर्क करके अपनी जांच अवश्य करवाएं। मुहं पर मास्क का प्रयोग करें व बार-बार अपने हाथों को अवश्य धोयें। उन्होने यह भी कहा कि अनजान व्यक्ति की किसी भी चीज को ना छुए। अगर फिर भी किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस के प्रति कोई भी जानकारी लेनी है तो वह सिर्फ विभाग द्वारा बनाये गये कॉल सैंटर न0 01664242130, 9050397313 तथा हैल्पलाईन न0 7015077108, 108 पर सम्पर्क कर सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।