कस्बा लक्ष्मणगढ़ जलदाय विभाग के द्वारा दी जाने वाली पेयजल आपूर्ति व्यवस्था दिनों दिन बिगड़ी जा रही है। जिससे कस्बे वासियों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है
August 28th, 2020 | Post by :- | 63 Views

लक्ष्मणगढ़ (अलवर) शौकत अली, गिर्राज सोलंकी

 

 

लक्ष्मणगढ़। कस्बा लक्ष्मणगढ़ जलदाय विभाग के द्वारा दी जाने वाली पेयजल आपूर्ति व्यवस्था दिनों दिन बिगड़ी जा रही है। जिससे कस्बे वासियों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है।
जानकारी के अनुसार कस्बा लक्ष्मणगढ़ में जलदाय विभाग के द्वारा दी जाने वाली सप्लाई व्यवस्था बिल्कुल फेल नजर आ रही है। जिससे महिलाएं आये दिन उपखंड अधिकारी के कार्यालय पर जाती रहती हैं या फिर महिलाएं जलदाय विभाग के ऑफिस में जाकर के मटका फोड़ प्रदर्शन कर रही है। सोमवार को कस्बे के माली मोहल्ला, कुम्हार मोहल्ला जोगी मोहल्ला वार्ड नंबर 15, 12 सभी जगह से एक-एक महिलाएं पानी की समस्या को लेकर काफी लंबे समय से दबी अपनी वेदना को लेकर कोरोना से डरी सेमी- एकत्र होकर आई और उपखंड अधिकारी को अपनी समस्या के बारे में अवगत करवाया। पानी की समस्या से जल्द से जल्द निजात दिलाने की बात कही। महिलाओं का साफ तौर से कहना था कि अगर कोरोना का प्रकोप नहीं होता तो हम बड़ा आंदोलन करते लेकिन करें क्या अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा हमें भुगतना पड़ता है। क्षेत्रीय विधायक का यहां कोई कार्यालय नहीं जिस पर शिकायत दर्ज कराई जा सके। क्षेत्रीय विधायक से मिलने के लिए या तो जयपुर जाओ या फिर उनके निवास स्थान पर जाना पड़ता है। वैसे क्षेत्रीय विधायक को पूर्व में महिलाओं ने शिकायत भी दी थी पर आज तक कोई समाधान नही हुआ। इधर सांसद बाबा बालकनाथ कभी क्षेत्र में आते ही नही है न ही उनका जनसुनवाई कार्यालय है। महिलाओं ने बताया कि जलदाय विभाग के कर्मचारी, अधिकारियों से बात करते हैं तो आए दिन अपनी मोटर फूक जाने की बात कहते हैं। महिलाओं ने आरोप लगाया कि जलदाय विभाग के ठेकेदार जहां पर मोटर है बंधती हैं वहा उनका और अधिकारी कर्मचारियों की मिलीभगत होती है। सप्लाई नही आने की शिकायत आती है तो मोटर बांधने की बात कहते हैं जिस पर यह अपना फर्जी बिल बनवा लेते हैं। फर्जी बिल बनवा करके अपनी जेब गर्म करते हैं। जलदाय विभाग के अधिकारियों ने लापरवाही का नमूना बना रखा है यहां पर अगर देखा जाए तो जो उपभोक्ता बराबर बिल देता आ रहा है उन उपभोक्ताओं को पानी की किल्लत बनी हुई है और जिन उपभोक्ताओं ने चोरी से कनेक्शन लगा रखे हैं उनको बराबर पानी मिलता है। महिलाओं ने एसडीएम सुरेन्द्र प्रसाद से जलदाय विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की कार्य प्रणाली की जांच कर कस्बे के पेयजल आपूर्ति नियमित रूप से करवाने की मांग की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।