रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं, आओ-30 अगस्त को रक्तदान करें-आरती बिंदल
August 24th, 2020 | Post by :- | 97 Views

रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं
हिण्डौनसिटी। दिलसुख की टाल वाले उमेश बिंदल की पत्नी आरती बिंदल हमेशा सामाजिक कार्यों में आगे रहती है। अब तक आरती 14 बार रक्तदान कर चुकी है । 30 अगस्त को सरकारी अस्पताल में आयोजित होने वाले शिविर को लेकर भी जागरूक करने का कार्य कर रही है। आरती के अनुसार रक्तदान जीवनदान है। हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिंदगियों को बचाता है। इस बात का अहसास हमें तब होता है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिंदगी और मौत के बीच जूझता है। उस वक्त हम नींद से जागते हैं और उसे बचाने के लिए खून के इंतजाम की जद्दोजहद करते हैं।
अनायास दुर्घटना या बीमारी का शिकार हममें से कोई भी हो सकता है। आज हम सभी शिक्षि‍त व सभ्य समाज के नागरिक है, जो केवल अपनी नहीं बल्कि दूसरों की भलाई के लिए भी सोचते हैं तो क्यों नहीं हम रक्तदान के पुनीत कार्य में अपना सहयोग प्रदान करें और लोगों को जीवनदान दें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।