बोर्ड की बैठक लेते कुशला भील की मूर्ति स्थापित करने के लिए कृत संकल्प हैं-जोशी
September 11th, 2019 | Post by :- | 110 Views

बाांसवाडा(अरूण जोशी)
नगर पालिका बोर्ड की बैठक नपाध्यक्ष रेखा जोशी की अध्यक्षता में व उपाध्यक्ष लीला पडियार एवं अधिशासी अभियंता मुकेश मधु की उपस्थिति में संपन्न कुशला भील की मूर्ति इसी बोर्ड के कार्यकाल में स्थापित करने का निर्णय लिया गया साथ ही विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की व नगर क्षेत्र में अवैध कब्जे कर निर्माण किए गए भवनों के बारे में जोशी ने कहा कि अवैध निर्माण की स्वीकृति नहीं दी जा सकती उन्हें धराशाई कर ऑक्शन किया जाएगा बुधवार को पालिका भवन में नपाध्यक्ष रेखा जोशी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई जहां पार्षद राजेश कटारा ने कहा कि इसी बोर्ड ने पर पूर्व बैठक में कुशला भील की मूर्ति पालिका क्षेत्र में लगाने का प्रस्ताव लिया गया था इस पर नपाध्यक्ष जोशी ने कहा कि हम कुशला भील की मूर्ति स्थापित करने के लिए कृत संकल्प हैं। जोशी ने कहा कि इस बोर्ड के कार्यकाल में राज सरकार से स्थान की स्वीकृति लेकर कुशला भील की मूर्ति स्थापित की जाएगी दूसरी ओर पार्षद दिनेश परिहार ने रेन बसेरा में बिस्तर अन्य सुविधाओं पर चर्चा की जोशी ने कहा कि बिस्तरों का ऑर्डर दे दिया गया है व एक कर्मी नियुक्त किया गया है साथ ही पालिका की आय बढ़ाने के लिए चर्चा की गई आज इस बैठक में आई डी एस एम की योजना से बनाए गए सड़क के बाद 205 प्लाट आवासी आरक्षित किए गए थे उन्हें बेचने का प्रस्ताव लिया गया दो दुकाने वह पांच प्लॉट को विक्रय का निर्णय लिया गया स्टेट ग्रांड के 5 पट्टे वितरण किए गए वह खांचा भूमि चिन्हित कर बेचने का निर्णय किया गया साथ ही पालिका परिसर में नकारा सामान का भी निस्तारण करने का निर्णय लिया गया नपा प्रतिपक्ष नेता रजनीकांत खाबिया ने कहा कि पालिका की आय बढ़ाने की बात कही पालिका उपाध्यक्ष लीला पडियार ने कहा कि बोर्ड में सर्व समिति से कार्य किए जा रहे हैं दूसरी ओर जोशी ने कहा कि नगर को स्वच्छ और सुंदर बनाने के लिए हम सब के प्रयास जारी रहना चाहिए इस अवसर पर पार्षद दिनेश परिहार महेंद्र प्रताप सिंह झाला राजेश कटारा प्रवीण बारोेड़िया दीपा सोनी ईश्वर लाल चैहान प्रतिपक्ष नेता रजनीकांत खाबिया केजार समिति साबिर हुसैन मिर्जा रेवेन्यू इंस्पेक्टर प्रहलाद सिंह राठौड़ बुद्धि लाल शाह हरेंद्र पंवार उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।