कोरोना से बददी में एक और मौत, स्थानीय व्यक्ति बना काल का ग्रास
August 21st, 2020 | Post by :- | 169 Views

– मलकूमाजरा निवासी व्यक्ति सांस की बीमारी के चलते हुए था भर्ती

– एक साल से किडनी की बीमारी से था पीडीत

– पीजीआई चंडीगढ़ में चल रहा था ईलाज

– नालागढ अस्पताल में आज सवा दो बजे ली अंतिम सांस

बददी ! औद्योगिक नगर बददी में कोरोना से एक और मौत हो गई है। इस बार भी मरने वाल शख्स गंभीर बीमारी से पीडीत था और उसका चंडीगढ़ में इलाज भी चला हुआ था। मृत्यु को प्राप्त हुआ यह व्यक्ति ग्राम पंचायत मलपुर के मलकूमाजरा का स्थानीय निवासी था। यह बीबीएन की पहली मौत है। जिसमें स्थानीय व्यक्ति कोरोना से पीडीत होकर काल ग्रास बना है। कुल मिलाकर यह भी देखा जा रहा है कि जो भी व्यक्ति ह्रदय रोग, मधुमेह या किडनी आदि से पीडीत होता है । वह जल्दी ही संक्रमण के शिकार में आ जाता है। स्वस्थ लोग व जिनकी शारीरिक प्रतिरोधक क्षमता ठीक होती है वो तो कोरोना की मार सह जाते हैं लेकिन जो लोग किसी न किसी बीमारी से पीडीत उनके लिए कोरोना कहीं न कहीं मौत बनकर आ रहा है। कोरोना से बददी बरोटीवाला में यह चौथी मौत है। दून विधानसभा हल्के तहत मलकूमाजरा गांव का 45 साल का स्थानीय व्यक्ति सांस की बीमारी के कारण बुधवार को भर्ती हुआ था। बीमारी से संक्रमित होकर वह दम तोड गए व आज उन्होने सवा दो बजे अंतिम सांस ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार 19 अगस्त को मलकूमाजरा गांव का एक निवासी आयु 45 जिसकी छाती में बहुत तेज दर्द हो रहा था और खांसी से पीडीत था दिन में 12 बजे भर्ती हुआ था। उसको सांस लेने में बहुत ज्यादा दिक्कतें आ रही थी। सीएमओ सोलन ने बताया कि रोगी को प्रोटोकोल के तहत पूरी स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाई गई लेकिन गुरुवार को सवा दो बजे उसने दम तोड दिया। उन्होने बताया कि इस रोगी में कोरोना के लक्षण पाए गए थे। कोविड के हिसाब से 6 बजे बॉडी का संस्कार कर दिया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।