अपने ही घरों में बंदी बनकर रह गये हैं हरियाणा के शाहपुर के लोग
August 19th, 2020 | Post by :- | 229 Views
5 महीने से बंद पड़ा है बॉर्डर क्षेत्र
बददी ! औद्योगिक क्षेत्र बी.बी.एन .को जोडऩे वाले झाड़माजरी-शाहपुर को प्रदेश सरकार ने करोना महामारी के चलते पिछले 5 महीनों से सील किया हुआ है व लोग अपने घरों में बंदी बनकर रह गये हैं। स्थानीय लोगेां का एक प्रतिनिधिमंडल तहसीलदार नालागढ़ से मिला व उन्हें इस मार्ग को खोलने की मांग रखी। ग्राम पंचायत गोरखनाथ के प्रधान रामपाल, राकेश कुमार, रविंद्र कुमार, चूडा राम, हरीश कुमार, हेमराज, रमेश चंद, सुरेश,  महेश, तरसेम लाल व राजकुमार समेत अनेक लोगों का कहना है कि करोना महामारी के चलते हिमाचल सरकार ने झाड़माजरी -शाहपुर बॉर्डर को पूरी तरह से सील किया हुआ है जबकि यहां के लेागों की जमीनें, व्यापार व रिश्तेदारियां बद्दी-बरोटीवाला -नालागढ़ में है। यही नहीं अगर शाहपुर के लोगों को स्वास्थ्य संबधी समस्या आती है तो उन्हें इलाज हेतु ई.एस.आई.सी. झाड़माजरी , पी.एच.सी. बरोटीवाला या सिविल अस्पताल नालागढ़ में जाना पड़ता है। लोगेां की अपील के बाद प्रशासन ने इस मार्ग केा स्थानीय लोगों के पैदल आने जाने के लिए खोल दिया था परन्तु पिछले कुछ दिनो से फिर उसे बंद कर दिया है। उन्हेांने कहा कि इसके चलते अब लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी पंचायत में करोना महामारी न के बराबर है व इसके बावजूद भी स्थानीय लोग हिमाचल में अपने व्यापार स्थलों, रिश्तेदारियों , व अपनी जमीन में फसल की देखभाल भी नहीं कर पा रहे है। उन्हेांने तहसीलदार महोदय से इस क्षेत्र को खोलने की मांग की है। तहसीलदार नालागढ़ रिश्व का कहना है कि ग्रामीणो का रास्ता खोलने क ो लेकर दिए ज्ञापन को   डी.सी. सोलन व  एस.डी.एम. नालागढ़ को भेज दिया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।