बराड़ा में साईबर क्राइम व साइबर कानून पर जागरूकता अभियान का आयोजन
August 19th, 2020 | Post by :- | 179 Views

अंबाला , बराड़ा ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी )

अंबाला पुलिस, प्रयास संस्था व भारत विकास परिषद द्वारा मंगलवार शाम को बराड़ा की अग्रवाल धर्मशाला में साईबर क्राइम व साईबर कानून पर जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। एस एच ओ वीरेंद्र वालिया जी की अध्यक्षता में हुए। जागरूकता शिविर में अग्रवाल सभा प्रधान प्रमोद जैन, मास्टर बृजमोहन गोयल विशेष रूप से मौजूद रहे।
जागरूकता शिविर में क्षेत्र से आए कई लोगों ने एस एच ओ बराडा से खुद से हुए साईबर क्राइम के बारे में सवाल किए कि उनके साथ साईबर क्राइम के माध्यम से कई बार फ्राड हो चुका है अत: भविष्य में इससे कैसे बचा जाए। एस एच ओ वीरेंद्र वालिया,अग्रवाल सभा प्रधान प्रमोद जैन, प्रयास प्रवक्ता संदीप सैनी,बृजमोहन गोयल वरिष्ठ सदस्य चंचल सिंह व राकेश कौशिक जी ने सभी उपस्थित लोगों को बतलाया की हम सब साईबर क्राइम से कैसे बच सकते हैं।

इस मौके पर एस एच ओ बराडा वीरेन्द्र वालिया ने समझाया की साईबर क्राइम किस किस तरह से होता है व इससे कैसे बचा जा सकता है। उन्होंने बताया कि हम सब को अपने  ए टी एम् कार्ड व क्रेडिट कार्ड का पिन कभी भी किसी को नहीं बतलाना चाहिए ओर पिन भी आसान शब्दों में ना होकर जटिल शब्दों में होना चाहिए।उन्होंने कहा कि मोबाइल के जरिए भी बहुत साईबर अपराध होतें हैं अत: हम सब को अपने मोबाइल में एप डाउन लोड करते समय ये ध्यान रखना चाहिए कि वो कितनी विश्वसनीय है।उन्होंने कहा कि हमारे पास अगर कोई ऐसी काल आती है कि हमारा इनाम निकला है आदि तो इस तरह की फर्जी काल से भी हमें बचना चाहिए। इस मौके पर बृजमोहन गोयल जी ने कहा कि हम सब को साईबर क्राईम के बारे में खुद भी जागरूक होना चाहिए व औरों को जागरूक करना चाहिए।
इस मौके पर प्रयास प्रधान विशाल सिंगला, उपप्रधान कुलदीप गुप्ता, भारत विकास परिषद संस्था तरुण प्रधान बंसल, बृजमोहन गोयल, समाजसेवी हनी पाहवा, पार्षद दीपक बाजवा, सुनील जैन, जंगबीर राणा,गौरव गोयल,पंकज बंसल, रजनीश मेहता,मदन गोपाल, राम सैनी, संजय जैन, गगन कक्कड़, हर्ष तायल, शुभम, पवन राणा, वैभव सिंगला, नमन गर्ग, दीपक जौहर, मंजीत सिंह, आदित्य गोयल, रविन्द्र व अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।