आशा वर्कर स्वास्थ्य विभाग में हड़ताल पर रहेंगी जिसकी सारी जिम्मेदारी हरियाणा सरकार की होगी|
August 18th, 2020 | Post by :- | 220 Views

सरकार ने किसी भी मांग को नहीं माना यूनियन के डेलिगेशन ने चंडीगढ़ में ही अपनी हड़ताल को 21 अगस्त तक बढ़ाने का किया फैसला|

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 18 अगस्त :- आशा वर्कर यूनियन की राज्य कमेटी की स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कल वार्ता हुई l सरकार ने किसी भी मांग को नहीं माना यूनियन के डेलिगेशन ने चंडीगढ़ में ही अपनी हड़ताल को 21 अगस्त तक बढ़ाने का फैसला किया हरियाणा सरकार की व स्वास्थ्य विभाग की हठधर्मिता के कारण हरियाणा सरकार द्वारा घोषित 20000 करो ना योद्धा आज हड़ताल पर हैं|

आज हड़ताली कर्मियों की अध्यक्षता जिला प्रधान गीता ने की और संचालन राज पांचाल ने किया| हड़ताली कर्मचारियों को संबोधित करते हुए जिला प्रधान श्री पाल सिंह भाटी व आशा वर्कर यूनियन के नेता सरोज ने बताया कि आज जिले की 1000 आशा वर्कर व राज्य की 20000 आशा वर्करों के साथ हड़ताल पर हैं हरियाणा सरकार से समझौते को लागू करने की मांग कर रही हैं । स्वास्थ्य विभाग का ढांचा मजबूत करने की मांग कर रही है । आशाओं को एक को सरकार से मिलने वाली राशि दिया जाए 2019 से 50% की कटौती को बहाल किया जाए।

आज तक इन सभी मांगों को लेकर जिसमें आशा वर्कर मांग कर रही है कि जब तक कर्मचारी पक्का नहीं किया जाता आशा वर्कर को न्यूनतम वेतन दिया जाए और वेतन को महंगाई भत्ते के साथ जोड़ा जाए। आशा वर्करों की सुविधा दी जाए भारत सरकार ने आशा वर्करों के समर्थन करते हुए थाली बजाई, दिए जलवाये लेकिन उनकी वेतन को किसी भी तरह से समय पर नहीं देती और 2018 के समझौते को लागू नहीं करती थी सारी सरकार की प्रक्रिया बेकार गई है|

सर्व कर्मचारी संघ के नेतृत्व में बिजली बोर्ड के कर्मचारी बिजली बिल का विरोध करते हुए जुलूस निकालकर सरकारी अस्पताल में आए और अपनी बात रखी आज की हड़ताली कर्मचारियों की सभा को जिला प्रधान राजेश शर्मा सचिव योगेश शर्मा, नेता बनवारी लाल, जितेन्द्र तेवतिया,  राजकुमार डागर, PTI राजेश कुमार, जोगेंद्र डागर, जसवीर तेवतिया, आशा वर्करों की नेता राजन, राजबाला, शिक्षा बाला, लक्ष्मी, सुदेश हथीन राजबाला कोट बबीता जगबती, रेखा, कमलेश ने संबोधित किया |

कल आशा वर्कर पूरे जिले से इकटठी  होंगी और बाजार से जुलूस निकालते हुए रोडवेज के अड्डे तक जाएंगे हम उम्मीद करते हैं कि या तो सरकार हठधर्मिता छोड़कर बातचीत का रास्ता अपनाकर मांगों का समाधान करेगी अन्यथा  पूरी 20000 आशा वर्कर स्वास्थ्य विभाग में हड़ताल पर रहेंगी जिसकी सारी जिम्मेदारी हरियाणा सरकार की होगी|

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।