सार्वजनिक स्थलों पर बिना मास्क वाले व्यक्तियों के किए जाएं चालान, कंटेनमेंट जोन में रखी जाए विशेष निगरानी, कोरोना की जांच के बढ़ाए जाएं सैंपल, आमजन कोरोना से बचने के लिए सावधानियां बरतकर प्रशासन का करें सहयोग : उपायुक्त सुजान सिंह
August 17th, 2020 | Post by :- | 52 Views

कैथल लोकहित एक्सप्रेस(ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी)उपायुक्त सुजान सिंह ने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर जो भी व्यक्ति बिना मास्क के मिलता है, उनके चालान किए जाएं। चालान करने का मकसद लोगों को महफूज करना है। कंटेनमेंट जोन में विशेष निगरानी रखी जाए। वर्तमान दौर में परिस्थितियां बदली हैं। इस समय सभी की सुरक्षा जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग कोरोना जांच के सैंपल और अधिक बढ़ाएं, ताकि इस महामारी को फैलने से रोका जा सके। जिला में अब तक बिना मास्क डाले सार्वजनिक स्थलों पर घूमने वाले 14 हजार 784 व्यक्तियों के चालान किए जा चुके हैं, जिससे 73 लाख 92 हजार रुपए की राशि जुर्माना के रूप में वसूल की गई है।
उपायुक्त सुजान सिंह लघु सचिवालय स्थित कांफ्रैंस हॉल में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। इससे पहले हरियाणा की मुख्य सचिव केसनी आनंद अरोड़ा ने वीडियो कांफ्रैंस के माध्यम से कोरोना महामारी के बारे में सभी उपायुक्तों से फीडबैक ली और उन्हें जरूरी दिशा-निर्देश दिए। वीसी के बाद उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आवागमन बढऩे से संक्रमण का खतरा बढ़ा है। पुलिस विभाग के साथ-साथ सभी अधिकृत अधिकारी सामाजिक दूरी, मास्क, सैनिटाईजर आदि की पालना करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिला का रिकवरी रेट बेशक अच्छा है, फिर भी हमें जरूरी सावधानियों का पालन करना चाहिए, ताकि खुद के साथ-साथ अपने परिजनों को भी इस बीमारी से बचाया जा सके। क्षेत्र के दुकानदार सामाजिक दूरी का विशेष ध्यान रखते हुए अपना काम धंधा करें। सबसे पहले जीवन है, इसलिए सभी जिलावासी अपने व समाज के हित में जरूरी सावधानियां बरतते हुए प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें। उन्होंने कहा कि कोरोना से ग्रस्त व्यक्ति के संपर्क में आए हुए लोगों को तुरंत चयनित करके उनके सैंपल लें, ताकि इस महामारी को आगे फैलने से रोका जा सके। जो व्यक्ति होम क्वायरनटाईन किए गए हैं, उन पर भी विशेष निगरानी रखी जाए।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन, उपमंडलाधीश डॉ. संजय कुमार, डीएसपी दलीप सिंह, नगराधीश सुरेश राविश, सिविल सर्जन डॉ. जयभगवान, डीआईओ दीपक खुराना, डॉ. नीरज मंगला आदि मौजूद रहे।

बॉक्स : कर्मचारी, राजनैतिक व अन्य संगठन अपनी बात रखने हेतू केवल 5 या 7 व्यक्ति ही मिले प्रशासन से : उपायुक्त सुजान सिंह
उपायुक्त सुजान सिंह ने कहा कि अभी कोरोना महामारी का प्रकोप खत्म नही हुआ, अपितू बढ़ रहा है। इसलिए इस बात को मद्देनजर रखते हुए कोई भी कर्मचारी, राजनैतिक व अन्य संगठन अपनी समस्या या अन्य मांग रखने के लिए धरना प्रदर्शन करने की बजाए 5 या 7 व्यक्ति जिला प्रशासन से मिल सकते हैं। उनकी पूरी बात को प्राथमिकता से सुनते हुए आवश्यक कार्रवाई हेतू उच्चाधिकारियों को प्रेषित किया जाएगा। अक्सर कई संगठन भीड़-भाड़ बनाकर और सामाजिक दूरी का उल्लंघन करते हुए प्रदर्शन करते हैं, जोकि संबंधित व्यक्तियों के साथ-साथ अन्य लोगों के लिए भी कोरोना के दृष्टिïगत खतरा है। क्योंकि हो सकता है कि भीड़ में कोई व्यक्ति कोरोना से संक्रमित हो और उसके कारण अन्य व्यक्ति भी संक्रमित हो सकते हैं, फिर भी कोई व्यक्ति उल्लंघना करता है तो उसके खिलाफ आपदा एक्ट के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने सभी से आह्वïान किया कि मानवता की सुरक्षा के लिए इस तरह की सावधानी करना जरूरी है, ताकि समाज के सभी वर्ग सुरक्षित रह सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।