नौकरी लगवाने के नाम पर हिसार में रिश्तेदारों ने ही की 8 लाख की ठगी
August 8th, 2020 | Post by :- | 30 Views

हिसार( लवकेश कथूरिया)गृह मंत्रालय में क्लर्क लगवाने के नाम पर पिता-पुत्र से रिश्तेदारों ने ही एक व्यक्ति के साथ मिलकर लाखों रुपये की ठगी कर ली। युवक को नौकरी लगवाने के बहाने 1 महीने तक अपने पास रखा और बरगलाते हुए इधर-उधर घुमाते रहे। कुछ दिनों बाद युवक को घर वापस भेज दिया और फिर पैसे वापस देने से भी मुकर गए। पूरी रकम का लेनदेन हांसी के प्रेम नगर में स्थित एक घर में किया गया था। हांसी पुलिस ने अनूप के पिता बलवान की शिकायत पर बड़सी गांव निवासी दो रिश्तेदारों व करनाल के इंद्री निवासी एक व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

हिसार के बालसमंद निवासी बलवान ने पुुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसका बेटा अनूप 12वीं पास करने के बाद खाली रहता था। एक दिन रिश्तेदार बड़सी निवासी शुभम व सुमन ने कहा कि उनकी करनाल के इंद्री में एक व्यक्ति से जान-पहचान हैं जो अनूप को गृह मंत्रालय में नौकरी लगवा सकता है। इसके बाद हांसी में  उसके साले अमीर चंद के घर रिश्तेदारों के साथ नवनीत से मुलाकात हुई और उन्होंने 11 लाख रुपये में उसके बेटे को नौकरी लगवाने की बात कही। फरवरी 2019 हांसी में ही साले के घर पर नवनीत को पहले 5.50 लाख रुपये दे दिए  इसके बदले में नवनीत ने विश्वास जीतने के लिए उसे दो चेक भी दिए थे। कुछ दिनों बाद अनूप को नौकरी लगवाने के लिए नवनीत अपने साथ ले गया व एक महीने तक घूुमाता रहा। इस दौरान उसने अनूप से 2.50 लाख रुपये और ले लिए। शिकायतकर्ता ने बताया कि 8 लाख रुपये लेने के बाद भी नौकरी लगवाने से नवनीत ने इंकार कर दिया व कुछ दिनों बाद अनूप को भी वापस भेज दिया। पुलिस ने शुभम, सुमन व नवनीत के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।