गांव तेपला में ग्राम पंचायत तेपला और युवा समाज सेवा संगठन और गांव के सदस्यों द्वारा शहीद विक्रमजीत सिंह के स्मारक पर फूल मालाओं से और दीपक जलाकर उनको भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई।
August 7th, 2020 | Post by :- | 151 Views

अम्बाला: (अशोक शर्मा)
आज गांव तेपला में ग्राम पंचायत तेपला और युवा समाज सेवा संगठन साहा और गांव के सदस्यों द्वारा शहीद विक्रमजीत सिंह के स्मारक पर फूल मालाओं से और दीपक जलाकर उनको भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। आज ही के दिन 7 अगस्त 2018 को जम्मू कश्मीर के गुरेज सेक्टर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में विक्रमजीत सिंह शहीद हो गए थे। विक्रमजीत सिंह का जन्म 6 मई 1993 को हुआ और अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद विक्रमजीत सिंह आर्मी में चले गए। विक्रमजीत सिंह आर्मी में यूनिट 3 मीडियम रेजीमेंट 89 बिटीआई 36 आरआर ब्रावो कंपनी आरटी रेजिमेंट मैं सिलेक्ट हुए थे। विक्रमजीत सिंह जब शहीद हुए तब उनकी शादी को केवल 10 महीने हुए थे। उनकी शादी के बाद उनके घर एक लडक़े ने जन्म लिया जिसका नाम गुरफतेह सिंह रखा गया।
तेपला सरपंच सुमनीत कौर ने कहा कि गांव तेपला वीर जवानों का गांव है। गांव तेपला के लोगों में देशभक्ति का जज्बा भरा हुआ है। इस मौके पर इंद्रजीत सिंह तेपला ने कहा कि की इन वीर जवानों के दम पर ही देशवासी अपने घरों में सुख शांति से बैठे हैं और कहां की ग्राम पंचायत तेपला ने गांव तेपला में शहीद विक्रमजीत सिंह के नाम से स्वागत गेट बनाया है। पूर्व विधायक श्रीमती संतोष चौहान सारवान के अनुरोध पर मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल के स्पेशल फंड से शहीद विक्रमजीत सिंह का स्टैचू बनाने के लिए ग्राम पंचायत तेपला को ग्रांट मिली थी। गुरबचन सिंह ने कहा कि तेपला से लगभग 300 युवा सेना में भर्ती हैं हर परिवार से एक या दो मेंबर सेना में भर्ती हैं। इस मौके पर शहीद विक्रमजीत के चाचा गुरुदेव सिंह ने कहा कि विक्रम जीत सिंह की शहादत पर पूरे देश को गर्व है विक्रमजीत की शहादत को भुलाया नहीं जा सकता विक्रमजीत सिंह के पिता बलजिंदर सिंह ने शहीद विक्रम जीत के नाम से स्वागत गेट और शहीद विक्रमजीत सिंह का सटैचू बनाने पर ग्राम पंचायत तेपला और हरियाणा सरकार का आभार व्यक्त किया।
युवा समाज सेवा संगठन के प्रधान अरविंद गोयल ने कहा कि सारा देश विक्रमजीत की शहादत को कोटि-कोटि नमन करता है हमारे वीर जवान अपनी और अपने परिवार की परवाह ना करते हुए बॉर्डर पर देश की रक्षा के लिए मर मिटने को तैयार रहते हैं। इस मौके पर हरप्रीत कौर, गुरफतेह सिंह, भूपिंदर कौर, रूबी, गगनदीप शर्मा, राजू ढकोला,मलविंदर सिंह, गुरदीप सिंह, गगनदीप चावला, विनोद कुमार, अतर सिंह, हरदीप सिंह, रणधीर सिंह, जगपाल सिंह, तेजिंदर सिंह,बालक राम, तिंदर समोथरा, सरबजीत सिंह, मनजीत सिंह, विमल कुमार, राजू साहा आदि सदस्य मौजूद रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।