मेरा परिवार-समृद्घ परिवार विषय के अंतर्गत परिवार पहचान पत्र बनेगा सुविधाओं और सूचनातंत्र का मजबूत आधार–सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का भरपूर मिलेगा लाभ:-विधायक असीम गोयल।
August 4th, 2020 | Post by :- | 33 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) मेरा परिवार-समृद्घ परिवार विषय के अंतर्गत परिवार पहचान पत्र बनने से धारकों को सरकार द्वारा जनहित के लिये चलाई गई स्कीमों और नीतियों का लाभ मिलेगा। इसके चलते सूचना तंत्र भी मजबूत होगा और सम्बन्धित व्यक्ति सरकारी सुविधाओं का भरपूर लाभ उठा सकेंगे। यह बात अम्बाला शहर के विधायक असीम गोयल नन्यौला ने मंगलवार को पंचायत भवन अम्बाला शहर में परिवार पहचान पत्र कार्यक्रम के तहत लाभार्थियों को कार्ड वितरित करने उपरांत कही। उन्होंने कहा कि सरकार ने समाज के हर वर्ग के लिये अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं, जिनका उन्हें भरपूर लाभ उठाना चाहिए। जहां तक परिवार पहचान पत्र का सवाल है, परिवार समाज की प्रथम इकाई है, इससे जागरूक समाज और राष्टï्र के निर्माण में मदद मिलती है। 
यहां पहुंचने पर उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा और एडीसी जगदीप ढांडा सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने मुख्य अतिथि को पर्यावरण का प्रतीक पौधा देकर उनका अभिनंदन और स्वागत किया। पंचकूला से मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा राज्य स्तरीय कार्यक्रम में कार्डधारकों को कार्ड वितरित किए। स्थानीय पंचायत भवन में बैठे लोगों ने वीडियो कॉन्फ्रैसिंग के माध्यम मुख्यमंत्री का संदेश सुना और परिवार पहचान पत्र वितरित करने के दृश्य को भी देखा। 
विधायक असीम गोयल ने इस मौके पर सभी लाभार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक अनूठा कदम उठाते हुए परिवार पहचान पत्र की जो यह नींव रखी है वह आने वाले समय में बेहद कारगर साबित होगी। उन्होने कहा कि परिवार पहचान पत्र के माध्यम से व्यक्ति के पूरे परिवार की पहचान होगी तथा उसे सरकार द्वारा क्रियान्वित योजनाओं का लाभ भी सुगमता से मिल सकेगा। आम व्यक्ति तक तथा अंतिम छोर तक बैठे योग्य व्यक्तियों को सरकारी योजनाओं का लाभ पारदर्शी तरीके से सुगमता से मिलना सुनिश्चित होगा। उन्होंने यह भी कहा कि आज का दिन पूरे हरियाणा के लिए उम्मीद भरा दिन है और आने वाले समय में पूरे भारतवर्ष में इस पहचान पत्र के माध्यम से लाभार्थी कहीं से भी सरकारी योजना का लाभ ले सकेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा न खाउंगा, न खाने दूंगा व मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा सुशासन प्रशासन देना व भ्रष्टाचार को मुक्त करने की दिशा में जो कदम उठाए गये हैं वह आज कारगर सिद्ध हुए हैं। 
विधायक ने यह भी कहा कि परिवार पहचान पत्र के माध्यम से लाभार्थी को अब बेवजह कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पडेंगे। प्रशासन के समक्ष भी डुपलीकेसी की जो समस्या आती थी वह भी खत्म होगी। उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र के साथ अब तक वृद्धावस्था सम्मान भत्ता, विधवा तथा निराश्रित महिला पेंशन और दिव्यांग पेंशन योजनाओं को जोड़ा जा चुका है। जल्द ही अन्य योजनाओं को भी इससे जोडऩे का काम किया जायेगा। 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।