सक्षम पुलिस अधिकारी का वर्जन लिए बगैर प्रकाशिक हुए एक पक्षीय अधुरे व गलत समाचार का खंडन
July 31st, 2020 | Post by :- | 123 Views

कैथल, ( लोकहित एक्सप्रेस विशाल चौधरी) वीरवार 30 जुलाई को विभिन्न समाचार पत्रों में यातायात जागरुकता के लिए पुलिस द्वारा प्राप्त की गई राशी बारे में सक्षम पुलिस अधिकारी का वर्जन लिए बगैर प्रकाशित हुए एक पक्षीय अधुरे व गलत समाचार का पुलिस अधीक्षक द्वारा खंडन किया गया है। यातायात जागरुकता को दो साल दौरान मिली 23 लाख से अधिक रुपए की समाचार के संबध में विस्तृत जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक ने शशांक कुमार सावन ने बताया कि वितिय वर्ष 2017-18 में सरकारी व निजी स्कुलों में खर्च की गई राशी 1,54,031 रुपए है। वर्ष 2018-19 में सरकारी व निजी स्कूलों में खर्च की गई राशी 1,08,197 रुपए है। अखबार में दर्शाया गया है कि सवाल उठता है कि पुलिस विभाग के पास लाखों रुपए की राशी भेजी जा रही है, तो उस राशी को खर्च क्यों नहीं किया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने बताया जबकि वास्तविकता इसके विपरीत है, क्योंकि पुलिस विभाग कैथल द्वारा वितिय वर्ष 2017-18 में उपरोक्त खर्च के अतिरिक्त 8,94,968 रुपए का अन्य यातायात का सामान तथा वितिय वर्ष 2018-19 में उपरोक्त खर्च के अतिरिक्त 12,66,858 रुपए का अन्य यातायात का सामान खरीदा गया है। वितिय वर्ष 2017-18 में कुल 10,50,000 रुपए की राशी प्राप्त हुई, जिसमें से 10,48,999 रुपए की राशी खर्च की गई, तथा 1001 रुपए की राशी वापिस कर दी गई। इसके अतिरिक्त वितिय वर्ष 2018-19 में कुल 14,17,555 रुपए की राशी प्राप्त हुई, जिसमें से 13,75,055 रुपए की राशी खर्च की गई तथा 42,500 रुपए की राशी वापिस कर दी गई। इस प्रकार वितिय वर्ष 2017-18 व 2018-19 में कुल 24,67,555 रुपए की राशी प्राप्त हुई, जिसमें से 24,24,054 रुपए की राशी खर्च की गई तथा 43,501 रुपए की राशी वापिस कर दी गई। जबकि कुछ समाचार पत्रों में शिर्षक यातायात जागरुकता के लिए आई 24 लाख की राशी में से मात्र 2.62 लाख रुपए किए खर्च व अन्य शिर्षकों के साथ पुलिस के सक्षम अधिकारी का वर्जन लिए बगैर गलत समाचार प्रकाशित किए गये है।
एसपी द्वारा वीरवार 30 जुलाई को प्रकाशित समाचार का जोरदार खंडन करते हुए जानकारी दी गई कि उक्त मदों से प्राप्त राशी की मार्फत यातायात पुलिस द्वारा खरीदे गए सामान में एलईडी सर्च लाईट, टै्रफिक लाईट बार, क्रास बैल्ट, एल्कोसैंसर, बोडीवार्म कैमरा, लाईटबार, बैरीकेटस, ट्रैफिक रेनकोट, ब्लडबैंक रिफ्रै शमैंट, रेडियम टेप, ई-चालान मशीन व डिवाईस, टै्रफिक जैकेट, सेफ्टी ट्रैफिक जैकेट, बॉडी लाईट ट्रैफिक फ्लैक्स बोर्ड आदी भी शामिल हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।