मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम को सुचारू रूप से लागू करें अधिकारी–अवैध माईनिंग पर पैनी नजर रखते हुए कार्रवाई अमल में लाना जरूरी:-डीसी।
July 30th, 2020 | Post by :- | 22 Views

अम्बाला: (अशोक शर्मा)
डीसी अशोक कुमार शर्मा ने वीसी के माध्यम से ली अधिकारियों की बैठक–मेरा पानी मेरी विरासत और माईनिंग जैसे विषयों पर अधिकारियों से करी समीक्षा–सम्बधिंत विषय को लेकर दिए आवश्यक निर्देश। डीसी अशोक कुमार शर्मा ने अपने कार्यालय से वीसी के माध्यम से मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम को सुचारू रूप से लागू करने, अवैध माईनिंग पर पैनी नजर रखने के साथ-साथ पंचायती राज संस्थाओं सम्बधी विषयों पर विस्तार से जानकारी ली और सम्बधिंत अधिकारियों द्वारा किए जा रहे कार्यो की समीक्षा भी की। उन्होंने वीसी में अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों के लिए सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं, परियोजनाओं, स्कीमों और नीतियों को सुचारू रूप से लागू करें, ताकि लाभार्थियों को बिना देरी के लाभान्वित किया जा सकें।
वीसी में डीसी ने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम एक बेहतरीन स्कीम हैं। इस स्कीम के लागू होने से एक ओर जल संचय होगा और वहंी दूसरी ओर फसलों के विविधिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। फसलों के विविधिकरण के लिए किसानों को दलहन, तिलहन, फलों, फूलों और सब्जियों की खेती की ओर पे्ररित करें। जिन किसानों ने पिछली बार धान की खेती की थी और अब वे फसलों का विविधिकरण करते हुए मक्का, दलहन, तिलहन या फिर सब्जियों की खेती कर रहे है उनके एकड़ पोर्टल पर अपलोड करें ताकि सरकार द्वारा मेरा पानी मेरी विरासत के तहत उनकी आर्थिक मदद हो सकें।
उन्होनें यह भी कहा कि किसानों को निर्धारित मापदंण्डों के तहत सात हजार रूपए और आठ हजार रूपए प्रति एकड़ देेने का प्रावधान हैं। उन्होनें जिला के प्रगतिशील किसानों से भी बात की तथा कहा कि वे अपने साथी किसानों को फसलों के विविधिकरण के बारे में जागरूक व प्रेरित करें। आपसी तालमेल व सम्न्वय के साथ हम फसलों के विविधिकरण को बढ़ावा दे सकते हैं। वीसी में उन्होंने माईनिंग अधिकारी को भी निर्देश दिए कि जिला में कहीं भी अवैध रूप से माईनिंग का काम नहीं होना चाहिए। यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ तुरन्त प्रभाव से कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि माईनिंग अधिकारी समय-समय पर सम्बधिंत क्षेत्रों का दौरा भी करें और चैंकिंग प्वांईट पर भी अपने विभागीय कर्मचारियों को तैनात करें। उन्होनें कहा कि किए गए कार्यो की रिपोर्ट उपायुक्त कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।