ठाकुरद्वारा पुलिस ने मंड मझबाह गाँव मे शीशम ओर सिम्बल की लकड़ी से भरा ट्रक किया काबू
July 26th, 2020 | Post by :- | 581 Views

गगन ललगोत्रा (व्यूरो कांगड़ा)

पुलिस चौकी ठाकुरद्वारा के अंतर्गत पड़ते गाँव मंड मझबाह में देर रात पुलिस ने शीशम ओर सिम्बल की लकड़ी से लदे एक ट्रक को काबू करने में सफलता हासिल की है। मामले के संबंध में जानकारी देते हुए थाना इन्दौरा के प्रभारी सुरिंदर सिंह धीमान ने बताया के कल देर शाम पुलिस चौकी ठाकुरद्वारा के प्रभारी सबइंस्पेक्टर रूप सिंह और सहायक उपनिरक्षिक सरताज सिंह अपनी पुलिस टीम सहित पराल टू मंड मियानी रोड पर गस्त पर थे। पुलिस की टीम जब गस्त करती हुई मंड मझबाह गाँव के पास पहुँची तो पुलिस को गुप्त सूचना मिली के मंड मझबाह व्यास दरिया के किनारे कोई व्यक्ति शीशम ओर सिम्बल के पेड़ों को काटकर ट्रक जिसका नम्वर (पीबी08 बी एस 9906)में लोड करके पंजाब एरिया में लेकर बेचने की फिराक में है। पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर बताई गई जगह में दबिस दी और मोके पर एक ट्रक में शीशम को सिम्बल की लकड़ी को कुछ लोगो द्वारा लोड करते हुए पाया गया। बही पर तैनात जमीन के मालिक गुरविन्दर सिंह पुत्र परमजीत सिंह और जगदीप सिंह पुत्र नरेंद्र सिंह निबासी मंड मझबाह ने पुलिस को बताया के हम यह लकड़ी अपनी मलकीयती भूमि से कटबा रहे है। पर पुलिस ने उनसे लकड़ी कटबाने के लिए बन बिभाग द्वारा कोई ली गई परमीशन के बारे में पुछा तो बो मोके पर कोई भी बन बिभाग की परमिशन संबंधी दस्तावेज नही दिखा पाए।जिसके चलते ट्रक ओर कब्जे में लेकर पुलिस चौकी ठाकुरद्वारा में लाया गया। ओर मामला बन बिभाग से संबंधित होने के चलते देर रात बन बिभाग को सूचित किया गया ओर सुबह बन बिभाग के बीओ बलवंत सिंह और बन रक्षक जतिंदर कुमार और अन्य स्टाफ को लेकर पुलिस चौकी ठाकुरद्वारा पहुँचे ओर ठाकुरद्वारा पुलिस ने गाड़ी को आगामी कार्यबाही हेतू बन बिभाग के हबाले कर दिया। इस संबंध में जब बीओ बलवंत सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा के शीशम को सिम्बल से भरे ट्रक को कब्जे में ले लिया गया है और जिस जगह से यह पेड़ काटे गए है बन बिभाग उस जगह की निशानदेही करबाएगा। ओर अगर भूमि सरकारी पाई जाती है तो बनती बिभागीय कार्यबाही अमल में लाई जाएगी।

ज्ञात रहे के मंड क्षेत्र में बिना बन बिभाग की परमिशन लिए हुए और बन बिभाग के बन रक्षक की मिलीभगत से रोजाना कई जगह पर बन माफिया द्वारा सरेआम पेड़ो पर कुल्हाड़ी चलाई जा रही है और रोजाना मंड एरिया से कई लकड़ी से लदी हुई गाड़ियों को पंजाब की ओर जाते देखना एक आम बात हो गई है और बन बिभाग ने आज तक इन स्थानीय बन काटूयो पर आज तक कोई कार्यवाही करना उचित नही समझा। बही जब देर रात यह शीशम से लदे ट्रक के बारे में पुलिस ने बन बिभाग को सूचित किया तो देर रात बन रक्षक इंदौरा जतिंदर कुमार शराब के नशे में धुत होकर ठाकुरद्वारा पुलिस के प्रांगण में पहुचा ओर ट्रक को हिरासत में लेना तो दूर की बात चौकी से बापिस चला गया । बन बिभाग के ऐसे कारनामे भी कही न कही उनकी बन माफिया के साथ मिलीभगत का संदेह पैदा करते है

इस संबंध में जब चौकी प्रभारी ठाकुरद्वारा सबइंस्पेक्टर रूप सिंह से बात की गई तो उन्होने बताया के मामला बन बिभाग से संबंधित था जिस बारे थाना प्रभारी इंदौरा के माध्यम से बन बिभाग के उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया था जिनके आदेशो अनुसार बन रक्षक जतिंदर कुमार जिसकी बीट में यह मामला पाया गया था उसे मोके पर भेजा गया था परंतु इसने अपनी ड्यूटी की अबेहलना करके गेर जिमेंबारी समझते हुए पुलिस के साथ सहयोग न दिया जबकि इसकी नैतिक जिमेवारी बनती थी जिस संदर्व में में चौकी प्रभारी ने इसके खिलाफ नियमानुसार कार्यबाही करते हुए बन बिभाग की रेंज ऑफिसर भदरोया मेडम सुमन को सूचित किया जिन्होंने बताया के आइन्दा कल बन बिभाग की टीम को भेजा जाएगा और पुलिस द्वारा जब्त की गई बालन लकड़ी को नियाणानुसर बन बिभाग द्वारा अपने कब्जे में लेकर उचित कार्यवाही की जाएगी चौकी प्रभारी द्वारा यह भी बताया गया के बन रक्षक द्वारा अपनी ड्यूटी के दौरान जो गैर जीमेबारी का परिचय दिया है इस द्वारा भी रिपोर्ट दर्ज की गई है जिसकी रिपोर्ट बन बिभाग के उच्च अधिकारीयो को उच्चित कार्यबाही हेतु भेजी जा रही है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।